बिहार/. राज्य में पंचायत चुनाव, 2021 के कार्यक्रमों को अंतिम रूप दिया जा चुका है. सूत्रों के अनुसार आम चुनाव कराने को लेकर राज्य सरकार द्वारा 20 अगस्त को अधिसूचना जारी की जा सकती है. यदि घोषणा की जायेगी तो इसके साथ ही राज्य में आदर्श आचार संहिता भी लागू हो जायेगी. हालांकि पंचायत चुनाव की तिथियों की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पायी है.

सूत्रों के मुताबिक जो प्रस्तावित तिथियां वायरल हुई हैं, उसके मुताबिक पहले चरण का मतदान 20 सितंबर को कराया जा सकता है. जबकि, अंतिम व 10 वें चरण का मतदान 25 नवंबर को कराने का प्रस्ताव है.

सरकार की सहमति मिलने के बाद पंचायती राज विभाग आयोग की अनुशंसा के आलोक में पंचायत आम निर्वाचन के कार्यक्रमों की घोषणा करेगा. इसके पहले विभाग द्वारा इसे कैबिनेट से पास कराया जायेगा.

प्रस्तावित तिथियों के मुताबिक पहले चरण का मतदान 20 सितंबर 2021 को, दूसरे चरण के मतदान की तिथि 24 सितंबर 2021 को, तीसरे चरण के मतदान की तिथि चार अक्तूबर 2021, चौथे चरण का मतदान आठ अक्तूबर 2021 को, पांचवें चरण का मतदान 18 अक्तूबर 2021 को, छठे चरण का मतदान 22 अक्तूबर 2021 को कराया जा सकता है.

इसी प्रकार सातवें चरण का मतदान 31 अक्तूबर 2021 को, आठवें चरण का मतदान सात नवंबर 2021 को, नौवें चरण का मतदान 15 नवंबर 2021 को और 10 वें चरण का मतदान 25 नवंबर को कराया जा सकता है.

मालूम हो कि राज्य में त्रिस्तरीय पंचायती राज के चार पदों और ग्राम कचहरीके दो पदों के लिए मतदान कराये जाने का प्रस्ताव है. इसमें आठ हजार मुखिया , आठ हजार सरपंच, एक लाख 12 हजार वार्ड सदस्य, एक लाख 12 हजार कचहरी पंच, पंचायत समिति सदस्य के 11 हजार पद और जिला परिषद सदस्य के 1100 पदों पर मतदान कराया जाना है. राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा हर चरणों में जिलों के अंदर प्रखंड व पंचायतों की अधिसूचना जारी की जायेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here