बिहार में केंद्र सरकार की सेना भर्ती के लिए लाई गई अग्निपथ योजना का विरोध अभी थमा नहीं है। सूबे के छात्र और युवा संगठनों ने 29 जून को बिहार विधानसभा का घेराव करने का ऐलान किया है। विधानसभा में अभी मॉनसून सत्र चल रहा है। युवा अभ्यर्थियों ने राज्य सरकार से अग्निपथ योजना के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पारित करने की मांग की है। 

छात्र संगठनों ने शुक्रवार को कहा कि अगर नीतीश कुमार सरकार प्रस्ताव नहीं लाती है, तो वे 29 जून को विधानसभा का घेराव करेंगे। शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह घोषणा की गई। इस दौरान आरवाईए, आइसा, छात्र राजद, एनएसयूआई, डीवाईएफवाई, एआईएसएफ समेत अन्य संगठनों के छात्र नेता मौजूद रहे। 

युवाओं ने कहा कि केंद्र सरकार को अग्निपथ योजना तुरंत वापस लेनी चाहिए। जन अधिकार छात्र परिषद के कार्यकर्ताओं ने भी शुक्रवार को अग्निपथ योजना के विरोध में पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन किया।

बता दें कि केंद्र सरकार ने इसी महीने सेना में भर्ती के लिए अग्निपथ स्कील लॉन्च की। इसकी घोषणा के दो दिन बाद ही बिहार में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया। राज्यभर में कई जगहों पर हिंसक प्रदर्शन हुए। इससे रेलवे और अन्य सार्वजनिक संपत्ति को भारी नुकसान हुआ था। हालांकि अब हिंसा पूरी तरह थम गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here