फिलिस्तीनी स्वास्थ्य अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि इजरायली सैनिकों ने कब्जे वाले वेस्ट बैंक में देर रात छापेमारी की। इस दौरान फिलिस्तीनी बंदूकधारियों ने फायरिंग की। इस क्षेत्र में सबसे घातक लड़ाई में चार फिलिस्तीनियों की मौत हो गई। आपको बता दें कि उत्तरी वेस्ट बैंक के एक शहर जेनिन में लड़ाई शुरू हुई। यहां इस महीने की शुरुआत से ही इजरायल के साथ लड़ाई में एक व्यक्ति के मारे जाने के बाद से तनाव बहुत अधिक है।

इज़राइल की अर्धसैनिक सीमा पुलिस ने कहा कि उसके बल एक संदिग्ध को गिरफ्तार करने का प्रयास कर रहे थे। इसी दौरान बंदूकधारियों ने फैयरिंग शुरू कर दी।पुलिस ने कहा कि इजरायली बलों ने जवाबी कार्रवाई की। इस कार्रवाई के दौरान कोई भी अधिकारी घायल नहीं हुआ।

फ़िलिस्तीनी समाचार एजेंसी, WAFA, ने कहा कि इज़राइल की गोली से चार लोग मारे गए और पांचवां गंभीर रूप से घायल हो गया। वरिष्ठ फिलिस्तीनी अधिकारी हुसैन अल शेख ने इज़राइल पर “एक जघन्य अपराध” का आरोप लगाया। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को इस बारे में अपनी चुप्पी और इस उत्पीड़न से फिलिस्तीनी लोगों को सुरक्षा प्रदान करने में अपनी विफलता पर शर्म आनी चाहिए।”

2000 के दशक की शुरुआत में दूसरे फिलिस्तीनी विद्रोह के दौरान, जेनिन ने इज़राइल के साथ कुछ सबसे भारी लड़ाई का अनुभव किया। हालांकि हाल के वर्षों में यह क्षेत्र आम तौर पर शांत रहा है। इजरायली सेना के अनुसार, पिछले दो महीनों में सैनिकों और फिलिस्तीनी बंदूकधारियों के बीच कम से कम आठ संघर्ष हुए हैं। वेस्ट बैंक ने हाल के महीनों में घातक हिंसा में वृद्धि का अनुभव किया है, जिसमें हाल के सप्ताहों में बच्चों और फिलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों सहित दो दर्जन से अधिक फिलिस्तीनी इजरायली गोलीबारी में मारे गए हैं।

1967 के मध्यपूर्व युद्ध में इज़राइल ने वेस्ट बैंक पर कब्जा कर लिया और उसके बाद के दशकों में दर्जनों बस्तियां स्थापित की हैं। यहा लगभग 500,000 लोग बसे हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here