जगत जननी माता जानकी सीतामढ़ी में प्राकट्य लेकर पूरे मिथिला क्षेत्र को अमर बनाया है। यहां के कण-कण में अमरत्व झलका है। पूरे सृष्टि की आदि शक्ति की भूमि को बारम्बार प्रणाम है। उक्त बातें शुक्रवार को भारत गौवर ट्रेन से जनकपुरधाम से सड़क मार्ग से आए सैलानियों ने पुनौराधाम एवं जानकी मंदिर दर्शन के बाद कही। सैलानी पुनौराधाम एवं जानकी मंदिर में सीताकुण्ड एवं उर्विजा कुण्ड के दर्शन के बाद माता सीता एवं प्रभुश्री राम का जयकारे लगा रहे थे।

अयोध्या के तर्ज पर हो सीतामढ़ी का भी विकास: सैलानियों ने पुनौराधाम मंदिर में बताया प्रभुश्री राम की नगरी अयोध्या का जिस तरह विकास हुआ। उसी के तर्ज पर सीतामढ़ी में भी मां जानकी के जन्मस्थली का विकास होना चाहिए। सैलानियों ने कहा कि आदि शक्ति जगदम्बा माता सीता के बिना प्रभु श्री राम भी अधूरे हैं।इसलिए जब प्रभु श्री राम की नगरी अयोध्या का विकास हो रहा है तो माता की नगरी सीतामढ़ी का भी विकास होनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here