समस्तीपुर :- बूढ़ी गंडक के जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी से बाढ़ का पानी गांवों में पसरता जा रहा है। गुरुवार को बाढ़ का पानी कमरगामा गांव में प्रवेश कर गया। इससे जटमालपुर से कमरगामा गांव जाने वाली सड़क पर आवागमन करने में लोगों को कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। तीरा, मलीकौली, कमरगामा, मोरवाड़ा एवं रामदीरी आदि गांवों में पहले ही बाढ़ का पानी प्रवेश कर चुका था। जिससे प्रभावित लोग तटबंध पर शरण लिए हुए हैं। 

लोगों के विस्थापित होकर तटबंध पर जाने के बावजूद अब तक किसी तरह की सरकारी सहायता उन तक नहीं पहुंचायी गयी है। हालांकि सीओ अभय पद दास ने कहा कि जायजा लिया जा रहा है। सभी बाढ़ पीड़ितों को सरकारी सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। दूसरी ओर बीसीओ सुशील कुमार सिंह, कल्याणपुर पैक्स अध्यक्ष रजनीश कुमार व स्थानीय पैक्स अध्यक्ष गोपाल साह एवं गोलू गुप्ता ने बागमती की बाढ़ से प्रभावित प्रखंड के नामापुर एवं बेलसंडी सहित अन्य जगहों का जायजा लेने के साथ बाढ़ पीड़ितों को हरसंभव सहयोग करने का आश्वासन दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here