समस्तीपुर :- कल्याणपुर प्रखंड के गोबरसिठ्ठा गांव में बुधवार रात नाव से बारात आयी और शादी के बाद नाव से ही दुल्हन ससुराल के लिए विदा हुई। बता दें कि बागमती की बाढ़ ने गोबरसिठ्ठा गांव को चारों ओर से पानी से घेर रखा है। बुधवार को वारिसनगर के पूरनाही गांव से दूल्हा चंदन कुमार की रामसकल राम की पुत्री काजल से शादी होनी थी।

शादी करने के लिए चंदन बैंडबाजे के साथ बारात लेकर आया था। लेकिन गोबरसिठ्ठा में दुल्हन के घर तक जाने के लिए कोई रास्ता नहीं था जिससे दूल्हे व बारातियों को नाव से ही जाना पड़ा। गांव के लोगों ने दूल्हा और बारात में आये लोगों के लिए तीन नाव की व्यवस्था की थी। दरवाजा लगने के बाद बाढ़ के पानी के बीच ही शादी की रस्म अदायगी पूरी की गयी। फिर गुरुवार सुबह दुल्हन को दूल्हे के साथ नाव से ही ससुराल के लिए विदा किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here