दरभंगा एयरपोर्ट को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। दरअसल, दरभंगा-दिल्ली के बीच 27 व 28 जुलाई को एक भी फ्लाइट का संचालन नहीं किया जाएगा। लगातार दो दिन उड़ान सेवा नहीं होने से संबंधित लोग परेशान हैं। लोग सोशल मीडिया पर इसको लेकर गुस्सा जाहिर कर रहे हैं। बता दें कि दरभंगा-दिल्ली रूट में दो दिनों तक सेवा बंद रहने का कारण विमानन कंपनी की ओर से नहीं बताया गया है।

दरभंगा से दिल्ली रूट पर सर्वाधिक यात्री

27 व 28 जुलाई को दरभंगा से दिल्ली जाने व दिल्ली से यहां आने वाले लोगों को पटना से बुकिंग करनी पड़ रही है। बता दें कि दरभंगा से दिल्ली रूट पर सर्वाधिक यात्री आवागमन करते हैं। लगातार दो दिन उड़ान सेवा बाधित होने से बीमार एवं बुजुर्ग यात्रियों को दिल्ली जाने व वहां से यहां लाने में काफी परेशानी हो रही है। आपको बताते चले की पटना के रास्ते उत्तर बिहार की यात्रा काफी दूभर है।

सोशल मीडिया पर लोग गुस्सा जाहिर कर रहे

इसको लेकर सोशल मीडिया पर लोग आपत्ति व्यक्त कर रहे हैं। दरभंगा एअरपोर्ट के लिए लगातार आन्दोलनरत रहने वाला संगठन मिथिला स्टूडेंट यूनियन के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूप मैथिल ने विमानन कंपनी के इस रवैये पर सवाल उठाते हुए कहा है कि मिथिला के लोगो को मजबूर किया जा रहा है की आप पटना से यात्रा करे #DarbhangaAirport से नही…. एक बड़ी साजिश के तहत दरभंगा एयरपोर्ट को बंद करवाने का प्रयास चालू है। हमलोग विरोध दर्ज करा रहे है,आप भी अपना विरोध दर्ज करिए।

पांच महानगरों के लिए सीधी विमान सेवा

बता दें कि दरभंगा एयरपोर्ट से उड़ान सेवा आठ नवंबर 2020 को शुरू हुई थी। इससे दरभंगा के अलावा समस्तीपुर, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, मोतीहारी, पूर्णिया, सहरसा, सीतामढ़ी, खगड़िया, भागलपुर सहित नेपाल की तराई के लोगों को लाभ मिला। यहां से दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु कोलकाता एवं हैदराबाद के लिए सीधी विमान सेवा है। दिल्ली, मुंबई एवं बेंगलुरु रूट पर अपेक्षाकृत अधिक यात्री होने के कारण दो-दो विमानों का आवागमन डेली होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here