टेक डेस्क. सबसे लोकप्रिय सोशल मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप लोगों की आम जरूरत बन गया है। इसका उपयोग केवल चैट, ऑडियो और वीडियो कॉल के लिए किया जाता है। लेकिन कई लोग बिना पॉलिसी पढ़े ऐप का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन आपको बता दें कि इसे नजरअंदाज करने पर आपको जेल भी हो सकती है। यदि आप पॉलिसी को तोड़ते हैं तो आपके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सकती है। पुलिस लगातार पॉलिसी तोड़ने का केस भी दर्ज कर सकती है। यानी आपको जेल भी जाना पड़ सकता है। आइए आपको व्हाट्सऐप पॉलिसी के बारे में बताते हैं। 

WhatsApp की पॉलिसी क्या कहती है 

पॉलिसी के तहत आप कोई भी फोटो या वीडियो साझा नहीं कर सकते जो समाज के लिए हानिकारक हो या समाज को विभाजित करता हो। ऐसा करने से वॉट्सऐप खुद का संज्ञान ले सकता है और अकाउंट को बैन कर सकता है। WhatsApp हर महीने ऐसे अकाउंट को बैन करता है। कंपनी ने पिछले महीने मई में 16 लाख अकाउंट ब्लॉक किए हैं। लेकिन रिपोर्ट के बाद आप अपना अकाउंट पुनः शुरू कर सकते हैं। 

ऐसा करने से होगी जेल 

पुलिस को धार्मिक विश्वासों को ठेस पहुंचाने या हिंसा भड़काने वालों को गिरफ्तार करने का भी अधिकार है। ऐसे व्यक्ति को जेल भेजने का अधिकार पुलिस को भी है। नीति के अनुसार यह अपराध की श्रेणी में आता है। उदाहरण के लिए दिल्ली में हुए दंगों को लें… वहां कई लोगों को गिरफ्तार किया गया क्योंकि वे दंगा भड़काने के लिए व्हाट्सएप का इस्तेमाल कर रहे थे। इसके लिए उन्होंने एक खास ग्रुप बनाया था।

ऐसी तस्वीरें और वीडियो न भेजें 

ऐसा करने पर ग्रुप के एडमिन के खिलाफ भी कार्रवाई हो सकती है। चाइल्ड पोर्न, दंगों वाली तस्वीरें और असामाजिक सामग्री पूरी तरह से इस श्रेणी में आती हैं। अफवाह फैलाना भी अपराध के दायरे में आता है। व्हाट्सएप लंबे समय से फैक्ट चेक पर काम कर रहा है। गलत पाए जाने पर WhatsApp कार्रवाई करता है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here