अब शहरी बाइपास घंटाघर से विक्रमशिला सेतु के बीच बाईपास सड़क बनाया जाना है। यह सड़क घंटाघर से आदमपुर-बड़ी खंजरपुर-मायागंज अस्पताल हाेते हुए विक्रमशिला सेतु तक बनेगी। आपको बता दूं कि इस सड़क इसका निर्माण कार्य इसी सप्ताह से प्रारंभ हाे जाएगा। लगभग साढ़े चार किलोमिटर लंबे इस बाइपास का निर्माण 6 महीने के भीतर पूरा हाे जाएगा। हालांकि इसमें सड़क के साथ-साथ नाला का भी निर्माण हाेगा और सड़क किनारे साेलर लाइट भी लगाई जाएंगी।

गुरुवार को डीएम सुब्रत कुमार सेन ने स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत शहर में हो रहे कामाें का निरीक्षण किया। साथ ही स्मार्ट सिटी कंपनी के अफसरों के साथ बैठक भी की। निरीक्षण के दाैरान डीएम ने यह बताया कि जहां-जहां भी नाले के ढक्कन खुले हुए हैं, उसे तुरंत बंद करने का काम शुरू किया जाएगा। और बंद करने का आदेश दिया। खासकर आदमपुर के जो नाले है उसपर ढक्कन लगाए जाएंगे। साथ ही तिलकामांझी हटिया राेड काे भी खूबसूरत बनाया जाएगा.

सबसे पहले इसमें पाइप लाइन का काम किया जाएगा, ताकि शहरी बाइपास का निर्माण प्रारंभ हाेने के बाद उसमें काेई परेशानी उत्पन्न नहीं हाे। आपको बता दें कि तिलकामांझी हटिया राेड में कुछ लाेगाें ने भूमि अतिक्रमित कर ली है, उन अतिक्रमणकारियाें काे सीओ द्वारा नाेटिस भेजा जाएगा। भाेलानाथ पुल के पास फ्लाईओवर बनाने हेतु जमीन की मापी हो चुकी है। हालांकि वहां भी कुछ लाेगाें ने अतिक्रमण किया है, जिसे नाेटिस भेजा जा रहा है। शहर की मुख्य सड़काें की चौड़ाई डेढ़ से दाे मीटर तक बढ़ाई जा रही है। यह काम भी 6 महीनें के भीतर पूरा हाे जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here