परिजनों ने जिस युवती को मरा हुआ समझकर उसका अंतिम संस्कार कर दिया वो अपने प्रेमी के साथ फेसबुक लाइव हो गयी। फेसबुक पर लाइव होकर उसने कहा कि मेरे परिवारवालों को परेशान न किया जाये। मैं ठीक हूं…। इसके अलावा भी लड़की ने कई सारी बातें फेसबुक पर लाइव होकर कहीं।

इसका पता चलने के बाद परिजनों से लेकर पुलिस के भी होश फाख्ता हो गये। सवाल ये उठने लगा कि जब यह लड़की जिंदा है तो जिस शव का अंतिम संस्कार किया गया वह किसका था? दरअसल यह पूरा मामला पटना के गौरीचक थाना इलाके से जुड़ा है। यहीं से एक लड़की गायब थी। 

इसी बीच बीते छह जुलाई को पुलिस ने एक युवती का शव बरामद किया। यह सुनकर लापता लड़की के परिवारवाले वहां पहुंच गये और शव की शिनाख्त अपनी बेटी के रूप में की। बाकायदा उसके शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। इसके बाद 12 जुलाई को वही लड़की प्रेमी के साथ फेसबुक पर लाइव हो गयी। 

अपने पोस्ट को उसने फेसबुक पर जुड़े दोस्तों के साथ भी शेयर किया। युवती के फेसबुक पर लाइव होने की जानकारी मिलने के बाद उसकी मां थाने पहुंची और पूरे मामले की जानकारी पुलिस को दी। गौरीचक थानेदार के मुताबिक पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है। 

हत्या और दुष्कर्म का केस हुआ था दर्ज 

युवती का शव मिलने के बाबत हत्या और दुष्कर्म का केस दर्ज किया गया था। पुलिस इसी पहलू पर घटना की जांच कर रही थी। लेकिन जिस युवती को सभी लोग मरा हुआ समझ रहे थे वह जिंदा निकली। लिहाजा उस युवती को बरामद करने के साथ ही पुलिस यह पता लगा रही है कि शव आखिर किसका था। शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया है लिहाजा अब उसकी पहचान करने में भी पुलिस को परेशानी होगी। 

हो सकती है डीएनए जांच

शव बरामद होने के बाद पुलिस ने उसका पोस्टमार्टम कराया था। अगर फोटो के जरिये कोई लाश की शिनाख्त करता है तो डीएनए जांच से ही उसकी पहचान की जा सकती है। शुरुआती दौर में जब पुलिस लाश को अज्ञात मानकर उसका अंतिम संस्कार करने जा रही थी उसी वक्त परिजन पहुंच गये और उसकी पहचान करने का दावा किया। हालांकि उस वक्त पुलिस ने कहा था कि ठीक से शव की पहचान करें। लेकिन उन्होंने हड़बड़ी में आकर गलत पहचान कर ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here