बिहार/ दरभंगा:- बिहार में दरभंगा जिले के बहादुरपुर प्रखंड में पंचायत चुनाव के मतदान को लेकर लोगों में काफी उत्साह है. लोग बढ़-चढ़कर गांव की सरकार को बनाने के लिए मतदान केंद्र पहुंचकर अपने मतों का प्रयोग कर रहे हैं. तरालाही पंचायत के चांडी गांव के मतदाता को अपने मत का प्रयोग करने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. क्योंकि उन्हें अपने मत का प्रयोग करने के लिए नदी के पार जाना पड़ रहा है. बता दें कि चांडी गांव के लगभग 350 मतदाता का मतदान केंद्र नदी के दूसरी तरफ धनैला गांव में बना दिया गया है.

दरअसल, तरालाही पंचायत के चांडी गांव के मतदान केंद्र (68 व 69) को नदी की दूसरी तरफ धनैला गांव में बनाया गया है. जिसके कारण वोटर को मतदान केंद्र पर पहुंचने के लिए नदी पार करना पड़ रहा है. नदी पार करने में युवा मतदाताओं को तो किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो रही है. लेकिन, बुजुर्ग, महिला तथा दिव्यांग मतदान केन्द्र नहीं पहुंच पा रहे हैं. जिससे स्थानीय लोगों के बीच काफी आक्रोश का माहौल है.

‘सरकारी उदासीनता के कारण आज तक इस नदी पर पुल नहीं बन सका है. जिसके चलते हमलोगों को नाव का सहारा लेकर मतदान केंद्र पर जाना पड़ता है. इस समस्या की जानकारी हमलोगों के द्वारा अधिकारियों को दी गई. लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला. नदी में पानी लगे होने के कारण नाव के अलावा कोई दूसरी व्यवस्था नहीं है. प्रशासन द्वारा नाव की व्यवस्था नहीं की गई, तो स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने नाव का इंतजाम किया. इसी नाव के सहारे हमलोग अपनी जान को जोखिम में डालकर मतदान केंद्र पर आ और जा रहे हैं.’ -शहजाद, वोटर

Vहमारे क्षेत्र में विकास की गति क्‍या है, इसका अंदाजा सहज लगाया जा सकता है. अफसरशाही इस कदर हावी है कि वोटर मतदान केंद्र तक कैसे जाएंगे, इसकी किसी को फिक्र नहीं है. शिकायत करने के बाद भी अधिकारी संज्ञान नहीं लेते हैं. ऐसा लगता है कि भौतिक सत्‍यापन किए बिना ही मतदान केंद्र बना दिया गया. नदी पर तीन वर्ष पूर्व पुल निर्माण का कार्य आरंभ हुआ. लेकिन यह पुल आज तक पूरा नहीं हो सका है. जिसके चलते नदी के दोनों तरफ बड़ी आबादी प्रभावित होती है.’ -जगदीश पंडित, वोटर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here