आज के समय में अलग-अलग तरीके से फ्रॉड के मामले लगातर बढ़ते जा रहे हैं ऐसे में सभी को सचेत रहने की जरूरत है नहीं तो भारी नुकसान का सामना करना पड़ सकता है. जहां ईमेल, ओटीपी और एसएमएस के जरिए फ्रॉड के मामले बढ़ते जा रहे हैं वहीं अब हैकर्स इंटरनेशनल कॉल के बहाने लोगों को चूना लगा रहे हैं. इसको लेकर सरकार लगातार लोगों को वॉर्निंग देती रही है लेकिन इसके बावजूद भी लोग इसके शिकार हो जाते हैं. इसी कड़ी में दूरसंचार विभाग (DoT) भी लगातार सभी मोबाइल यूजर्स को मैसेज भेजकर इस तरह के फ्रॉड से बचने की सलाह दे रहा है.

DoT के जरिए आज भी कई यूजर्स को ऐसा वॉर्निंग मैसेज भेजा गया है जिसमें उन्हें किसी भी तरह के इंटरनेशनल कॉल फ्रॉड से बचकर रहने के लिए कहा गया है.

इस मैसेज में लिखा है कि ”While receiving an international call, if an Indian number or no number is displayed on your phone, please inform on the DoT tollfree number 1800110420/1963.” इसका मतलब है कि अगर आपके फोन पर बिना किसी नंबर या इंडियन नंबर से इंटरनेशनल कॉल आता है तो DoT के टोलफ्री नंबर
1800110420/1963 पर तुरंत सम्पर्क करें.”

‘No Number’ वाले कॉल का मतलब मुसीबत

अगर आपके पास पास नो नंबर वाले कॉल आ रहे हैं तो बता दें कि यह एक फ्रॉड कॉल हो सकता है और DoT के अनुसार आपको उन्हें तुरंत इसकी जानकारी देनी चाहिए. ऐसे कॉल्स आम तौर पर स्कैम होते हैं और इनसे बचकर रहना बेहद जरूरी है. इसके अलावा और भी टेलीकॉम ऑपरेटर्स लगातार इस तरह के कॉल से बचने की वॉर्निंग देते रहते हैं. जियो, वोडाफोन आइडिया और एयरटेल द्वारा यूजर्स को लगातार मैसेज भेजकर इसकी जानकारी दी जाती है और बताया जाता है ऐसे किसी भी कॉल, मैसेज आदि पर विश्वास न करें.

कैसे काम करता है यह इंटरनेशनल कॉल स्कैम?

अगर इंटरनेशनल कॉल फ्रॉड की बात की जाए तो आमतौर पर यूजर्स को अलग-अलग कंट्री कोड के साथ कॉल आ सकती है जैसे +92, +375 आदि. आप जैसे इन कॉल्स को रिसीव करेंगे तो आपसे बताया जाएगा कि आपने कोई लॉटरी या फिर इनाम जीता है. इसके साथ ही कॉल करने वाला व्यक्ति आपकी पर्सनल जानकारी हासिल करने की कोशिश करेगा और इसके साथ ही वह हो सकता है कि आपको प्राइज जीतने के लिए किसी तरह का कमीशन देने की भी बात कहे. यह फ्रॉड न सिर्फ कॉल बल्कि एसएमएस के जरिए भी किया जा सकता है. इसलिए इसको लेकर लगातार दूरसंचार विभाग और टेलीकॉम कंपनियां वॉर्निंग जारी करती रहती हैं. इसके मुताबिक यूजर्स को न सिर्फ ऐसे कॉल को रिसीव करने से बचना चाहिए बल्कि अगर ऐसे किसी नंबर से मिसकॉल आता है तो उसपर कॉल भी नहीं करना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here