पटना. पटना नगर निगम चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी संघ से जुड़े सफाईकर्मियों के पिछले तीन दिनों से हड़ताल में रहने के कारण अधिकांश इलाकों में घरों से कचरा नहीं लिया जा रहा है. ऐसे में मजबूरन लोग सड़कों पर कचरा जमा कर रहे हैं. अब कचरे के ढेर से निकलनेवाली दुर्गंध से लोग परेशान हैं.

खासकर सड़कों पर मरे हुए जानवर को फेंके जाने व उसका उठाव नहीं होने से स्थिति खराब है. हालांकि निगम प्रशासन की ओर से दावा किया जा रहा है कि रात में सड़कों पर जमा कचरे का उठाव हो रहा है.

पुलिस के सहयोग से कचरा गाड़ी निकाली जा रही है और काम में बाधा पहुंचाने पर कर्मियों के खिलाफ एफआइआर हो रही है. इधर, निगम प्रशासन ने कर्मियों को अल्टीमेटम दिया है कि 24 घंटे में काम पर वापस नहीं लौटने पर सेवा समाप्त कर दी जायेगी.

जगह-जगह सड़कों पर जमा है कचरा

कंकड़बाग, बोरिंग कैनाल रोड, किदवईपुरी, पीएनटी कॉलोनी, मंदिरी नाला, हड़ताली मोड़ इंदिरा भवन के पास, दरियापुर, अटल पथ में शिवपुरी फ्लाइओवर, राजापुर पुल सब्जी मंडी, मीठापुर सब्जी मंडी में जमा कचरा से निकलनेवाले दुर्गंध से लोग परेशान हैं.

अटल पथ में शिवपुरी फ्लाइओवर के पास मरा हुआ जानवर बोरा में बंद कर फेंका हुआ है. फ्लाइओवर की दूसरी तरफ चार जगहों पर कचरे का ढेर जमा है. निगम की ओर से सिर्फ वीआइपी इलाके पर ध्यान दिया जा रहा है, गली-मुहल्ले में सड़कों पर जमा कचरे का उठाव नहीं हो रहा है. कचरा गाड़ी निकालने के दौरान हड़ताली कर्मी दूसरे सफाईकर्मियों के साथ झड़प कर रहे हैं.

कर्मियों को काम पर लौटने का अल्टीमेटम

नगर आयुक्त ने हड़ताल में शामिल दैनिक सफाई कर्मियों को 24 घंटे में काम पर वापस लौटने का अल्टीमेटम दिया है. निर्धारित समय पर काम पर वापस नहीं लौटने पर उनकी सेवा समाप्त होगी.

वहीं, अपर नगर आयुक्त (सफाई) शीला ईरानी ने कहा कि शहर में जमा कचरे को रात में उठाव हो रहा है. पुलिस के साथ कचरा गाड़ी, टीपर को भेजा जा रहा है. काम में बाधा पहुंचाने पर एफआइआर हो रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here