राजधानी पटना शातिर चोरों ने रविवार को दिनदहाड़े बड़ी वारदात को अंजाम दिया। एजी ऑफिस में कार्यरत ऑडिटर आंबेडकर रजक के घर से चार लाख के गहने समेट कर फरार हो गए। जिस वक्त यह वारदात हुई उस समय घर में बच्चे टीवी देख रहे थे और उनकी मम्मी बाजार में सब्जी खरीदने के लिए गई थी। चोरों ने इसी का फायदा उठाया और दिनदहाड़े मकान में घुसकर कमरों को खंगाला और चार लाख के गहने लेकर फरार हो गए। इस मामले में पीड़ित की ओर से थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई गई है।

बताया गया है कि ऑडिटर की पत्नी अपनी चार साल की बेटी और छह साल के बेटे को घर में ही छोड़ कर सब्जी खरीदने गई थीं। जाते वक्त उन्होंने घर का दरवाजा बाहर से ही बंद कर दिया जबकि बच्चे कमरे के अंदर टीवी देख रहे थे। इस बीच कुंडी खोलकर एक शातिर उनके मकान के अंदर दाखिल हो गया। उन्हें देख बच्चे बोले कि अंकल मम्मा घर में नहीं हैं। यह सुनकर शातिर ने बच्चों से कहा कि तुम टीवी देखो। मम्मा आ रही हैं। फ्रिज ठीक करने को बोला है। इस पर बच्चे टीवी देखने में मशगूल रहे, जबकि शातिर दूसरे कमरे में रखे संदूक को खोलकर उसमें रखे गहने चुरा लिया। पुलिस का दावा है कि जल्द ही शातिर पकड़े जाएंगे।

भागते हुए शातिर ने बाहर से कमरे का दरवाजा बंदकर ताला जड़ दिया और चाबी लेकर फरार हो गये। सब्जी लेकर जब ऑडिटर की पत्नी घर लौटी तो दरवाजे पर ताला जड़ाकर देखकर हैरान हो गईं। आवाज लगाने पर बच्चे बोले कि मम्मा एक अंकल फ्रिज ठीक करने आए थे। वही ताला बंद कर गए होंगे। ताला तोड़कर जब वह मकान में दाखिल हुईं तो कमरे में सामान बिखरा हुआ था और संदूक में रखे गहने गायब थे। एक सीसीटीवी फुटेज में घर में घुसा शातिर मास्क लगाए दिखा है। वह नीले रंग की शर्ट और काले रंग का पैंट पहने है। कि कुछ शातिर बाहर खड़े रहकर आने-जाने वाले लोगों की गतिविधियों पर नजर रख रहे होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here