शादी से पहले एक-दूसरे से अनजान महिला और पुरुष सात फेरों के बंधन में बंधकर एक-दूसरे के बेहद करीब आ जाते हैं। यहीं से शुरू होता है दोनों के बीच विश्वास का रिश्ता। दोनों में से अगर एक का भी विश्वास टूटता है तो पति-पत्नी के इस रिश्ते में दरार पड़ते देर नहीं लगती। बिहार में भी कुछ इसी तरह का मामला सामने आया है, जहां एक महिला की 14 साल पहले शादी हुई थी।

शादी के बाद दोनों की जिंदगी हंसी-खुशी गुजर रही थी। दोनों ने साथ मिलकर एक सपना भी देखा जो था शहर में घर बनाने का। पति ने गांव का खेत बेच दिया। खेत बेचने के बाद जो रुपये मिले उसने वह सभी रुपये अपनी पत्नी के खाते में जमा करा दिए, लेकिन उसे क्या पता था कि पत्नी की नीयत इतनी जल्दी ही बदल जाएगी और पत्नी बेवफा हो जाएगी। एक दिन पति कमाने के लिए दूसरे प्रदेश चला गया इसी बीच पत्नी भी पड़ोसी संग मिलकर घर से भाग निकली। इतना ही नहीं पति ने उसके खाते में जो 39 लाख रुपये जमा कराए थे उसे भी निकाल लिए। पत्नी ने खाते में केवल 11 रुपये ही छोड़े। इसकी जानकारी जब पति को हुई तो उसे पैरों तले से जमीन ही खिसक गई।

मामला बिहार के पटना का है। यहां 14 साल पहले बिहटा के कौड़िया के रहने वाले ब्रजकिशोर सिंह की शादी भोजपुर के बरहरा थाना क्षेत्र के गांव बिंद की रहने वाली प्रभावती के साथ हुई थी। ब्रजकिशोर गांव में ही खेती-किसानी करता था। बिहटा में किराए के मकान में रहने के दौरान ब्रजकिशोर खुद खेती करता था। इसी बीच उसने खेती छोड़ दी और कमाने के लिए गुजरात चला गया।

गुजरात में कामकर वे अपने पत्नी के खाते में भैसा भेजा करते थे, जिससे उसके परिवार का भरण पोषण चलता था। इसी बीच पत्नी की पड़ोस के रहने वाले एक शख्स से नजदीकियां बढ़ गईं। धीरे-धीरे दोनों में बेपनाह प्यार हो गया। दोनों रोजाना एक-दूसरे से बातचीत करने लगे। पति दोनों के प्रेम से बिल्कुल अनजान था। पति को धोखे में रखकर वह युवक से मिलने जाती थी। इसी बीच दोनों के शारीरिक संबंध भी बने। इस मामले की किसी को भनक तक नहीं लगी। ब्रजकिशोर की एक बेटी और एक बेटा था। दोनों बड़े हो रहे थे। 

बच्चों को अच्छी परवरिश के लिए पिता ने बेच दिया खेत

बेटा और बेटी की अच्छी परविरश के लिए पिता ने शहर में बसने की सोची। शहर में बसने के लिए पैसे चाहिए थे, इसके लिए ब्रजकिशोर ने गांव का खेत बेच दिया। खेत बेचने पर उसे करीब 39 लाख रुपये मिले, जिसको उसने पत्नी के खाते में जमा करवा दिए, लेकिन उसे क्या मालूम था कि उसकी पत्नी उसे धोखा देकर किसी और के साथ चली जाएगी। ब्रजकिशोर कमाने के लिए फिर गुजरात चला गया। वहां से जब वापस लौटा तो घर में ताला पड़ा था, घर पर पत्नी नहीं थी। इसकी जानकारी जब मकान मालिक से की तो उन्होंने कहा कि उसकी पत्नी प्रभावति बेटी को साथ लेकर यहां से चली गई है। इसके बाद ब्रजकिशोर ने सारे रिश्तेदारों के यहां पत्नी और बच्चों की जानकारी की। ब्रजकिशोर को किसी तरह बेटे का पता चला तो वह उसे लेकर घर पहुंचा। ब्रजकिशोर ने जब खाता चेक किया तो उसके होश उड़ गए। खाते में केवल 11 रुपये ही बचे थे, बाकी के पैसे गायब थे। 

प्रभावति ने प्रेमी के खाते में ट्रांसफर किए 26 लाख

खाते में रुपये न होने के बाद घबराया ब्रजकिशोर सीधे थाने पहुंचा और पुलिस को पूरे मामले की जानकारी दी। पुलिस को छानबीन के दौरान पता चला कि प्रभावती का किसी युवक के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा था। प्रभाावती ने 26 लाख रुपये डेहरी निवासी एक व्यक्ति के खाते में ट्रांसफर किए हैं जबकि 13 लाख रुपये चेक के जरिए निकाले गए है। पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here