समस्तीपुर। पूसा थाना क्षेत्र के भुसकौल चौक के समीप 27 जुलाई को हुई तीन लाख रुपये लूट की साजिश पीड़ित पान मशाला व्यवसायी के दोनों कर्मियों ने ही शागिर्दों के साथ रची थी। स्थानीय पुलिस ने साजिश रचने वाले मास्टरमाइंड समेत पांच शातिर को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार की पहचान नगर थाना क्षेत्र के चीनी मिल मोहल्ला के रतनलाल पोद्दार के पुत्र राजा कुमार, विशनपुर निवासी टिकू कुमार, मथुरापुर के ललन कुमार उर्फ पिकू उर्फ साइबर, बेगमपुर निवासी चंदन कुमार और वारिसनगर थाना क्षेत्र के मन्नीपुर निवासी गणेश प्रसाद सिंह के पुत्र आशीष कुमार के रुप में हुई है। पकड़े गए आरोपितों के पास लूट की 83 हजार रुपये, एक स्कूटी, घटना में प्रयुक्त एक बाइक, चार मोबाइल बरामद हुआ है। सोमवार को सदर अनुमंडल पुलिस कार्यालय में डीएसपी प्रीतिश कुमार ने मामले का पर्दाफाश किया। बताया कि गुदरी बाजार के व्यवसायी सुधीर कुमार के कर्मी राजा कुमार और टिकू कुमार ने शार्गिदों के साथ लूट की साजिश रची थी। बीते 27 जुलाई को पीड़ित व्यवसायी ने दोनों कर्मियों को दुकान की खरीदारी के लिए तीन लाख रुपये नकद दिये। दोनों कर्मी स्कूटी लेकर खरीदारी के लिए पूसा के रास्ते मुजफ्फरपुर की ओर निकले। इस क्रम में भुसकौल चौक के निकट शागिर्दों ने साजिश के तहत दोनों कर्मियों से पिस्टल की नोंक पर तीन लाख रुपये नकद व स्कूटी लूट लिया। सदर डीएसपी ने बताया कि घटना के बाद मास्टमाइंड राजा कुमार ने स्थानीय थाना को गुमराह करने की कोशिश की। वारदात के बाद उसने थाना में एक आवेदन देकर प्राथमिकी दर्ज कराई। इसमें तीन अज्ञात को आरोपित किया। ताकि स्थानीय पुलिस को कोई संदेह न हो। हालांकि, पुलिस द्वारा बदमाशों के बनाए गए साजिश को विफल कर दिया। लूटकांड के अनुसंधान में जुटी विशेष टीम को तकनीकी अनुसंधान के माध्यम से बदमाशों का सुराग मिला। पूसा थानाध्यक्ष निशा भारती के नेतृत्व में गठित पुलिस की विशेष टीम ने संभावित ठिकानों पर छापेमारी करते हुए वारदात को अंजाम देने वाले मास्टरमाइंड व गिरोह के सभी बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। डीएसपी ने बताया कि पकड़े गए आरोपितों ने घटना में संलिप्तता स्वीकार की है। छापेमारी दल में मथुरापुर ओपी थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह, पूसा थाना के सअनि संजय कुमार समेत सशस्त्र बल के जवान शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here