हाजीपुर :-बिहार में इन दिनों कई नदियों का जलस्तर बढ़ा हुआ है। इससे कई इलाकों में पानी भर गया है। ऐसे में हजारों लोग अपना घर छोड़ने को मजबूर हो गए हैं। राघोपुर में बाढ़ की वजह से हजारों लोग परिवार के साथ हाजीपुर में बने राहत शिविरों में रह रहे हैं। एनएच से सटे तेरसिया में बाढ़ पीड़ितों के लिए राहत कैंप बनाया गया है। यहां लोगों के लिए कम्युनिटी किचन की शुरुआत की जा चुकी है।

इसी बीच अचानक केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय तेरसिया में बने राहत कैंप में पहुंचे। यहां लोगों ने मंत्री को घेर लिया और व्यवस्था को लेकर शिकायत करने लगे। लोगों की शिकायत थी कि सरकार से कहकर छोटे बच्चों के लिए रोटी का इंतजाम कराया जाए लेकिन मंत्री ने कह दिया कि सरकार के लिए रोटी का इंतजाम कराना संभव नहीं है। 

जब लोगों ने मंत्री को शिकायत सुनाना शुरू किया तो उनके सुरक्षाकर्मी वीडियो बनाने से रोकते हुए दिखाई दिए। जानकारी के अनुसार, बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए कैंप में खाने का इंतजाम तो है लेकिन लोगों को सुबह-शाम केवल चावल दिया जा रहा है। कैंप में रहने वाले लोगों का कहना है कि केवल चावल खाने से छोटे-छोटे बच्चे बीमार हो रहे हैं। इससे बाढ़ से जूझ रहे लोगों की मुश्किलें बढ़ रही हैं।

इसी वजह से नित्यानंद राय के पहुंचने पर लोग उनसे रोटी का इंतजाम करने की मांग करने लगे। बता दें कि केंद्रीय मंत्री पटना से समस्तीपुर के लिए जा रहे थे। एनएच किनारे बाढ़ प्रभावित लोगों को देखकर वे रुके तो लोगों ने उन्हें अपनी समस्या बतानी शुरू कर दीं। कैंप में मौजूद एक महिला ने कहा कि कैंप में 10 दिन से केवल चावल मिल रहा है। बच्चों की तबीयत खराब हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here