पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी आपत्ति जताने वाले देशों में अमेरिका भी शामिल हो गया है। गुरुवार को अमेरिका ने ‘भारतीय जनता पार्टी को दो अधिकारियों’ के बयान की निंदी की है। वहीं, उन्होंने इस मामले में भाजपा की कार्रवाई की तारीफ भी की है। खास बात है कि इससे पहले कई अरब देश पैगंबर पर बयानबाजी को लेकर विरोध दर्ज करा चुके हैं।

अमेरिका के विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने कहा, ‘हम भाजपा के दो आधिकारियों की तरफ से की गई आपत्तिजनक टिप्पणी की निंदा करते हैं और हम यह देखकर खुश हैं कि पार्टी ने सार्वजनिक तौर पर उन बयानों की निंदा की।’ उन्होंने कहा, ‘हम धर्म या आस्था की आजादी समेत मानवाधिकार के मुद्दों को लेकर नियमित रूप से भारत सरकार के संपर्क में रहते हैं और हम भारत को मानवाधिकार के लिए सम्मान बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।’

क्या था मामला
भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने 26 मई को पैगंबर मोहम्मद को लेकर टिप्पणी की थी। इसपर कई इस्लामिक देशों ने खासी नाराजगी जाहिर की थी। इनमें कई देश ऐसे थे, जिनके भारत के साथ संबंध करीबी माने जाते हैं। बांग्लादेश में विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों ने प्रधानमंत्री शेख हसीना से औपचारिक तौर पर निंदा की मांग की थी।

अमेरिका से पहले कतर, ईरान, इराक, कुवैत, सऊदी अरब, पाकिस्तान समेत कई इस्लामिक देश पैगंबर पर टिप्पणी पर नाराजगी जाहिर कर चुके हैं। फिलहाल, शर्मा भी भारत में पुलिस कार्रवाई का सामना कर रही हैं। उनके खिलाफ कई FIR दर्ज हो चुकी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here