सहरसा. सोशल मीडिया प्लेटफार्म्स इन दिनों प्रेम विवाह का सबसे बड़ा जरिया बन रहा है. इन साइट्स के जरिये न केवल अजनबी एक दूसरे से परिचित हो रहे हैं बल्कि दिल देने में भी देर नहीं कर रहे. ऐसा ही एक मामला बिहार के सहरसा जिले से आया है जहां सोशल मीडिया प्लेटफार्म से शुरू हुई पहचान शादी के बंधन में बंधी लेकिन पुलिस की मदद से और थाना परिसर स्थित मंदिर में ही.

अजब प्रेम की गजब कहानी उस वख्त देखने को मिला जब मधुबनी जिले की रहने वाली युवती प्रिया भारती सिमरी बख्तियारपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले अपने प्रेमी आदित्य राज के घर पहुंची और शादी करने का दबाब बनाने लगी, लेकिन प्रिया का प्रेमी शादी करने से इंकार कर गया. ऐसे में दिल का मामला थाने यानी सिमरीबख्तियारपुर तक जा पहुंचा. इसके बाद काफी मशक्कत और हाई वोल्टेज ड्रामा के बाद थाना परिसर के मंदिर में प्रेमी जोड़े की शादी कराई गई, जिसकी गवाह खुद सिमरी बख्तियारपुर थाना की पुलिस बनी.

दरअसल मधुबनी जिले की रहने वाली युवती प्रिया भारती की पहचान फेसबुक पर सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर के रहने वाले युवक आदित्य राज से हुई. इसके बाद दोनों में पहले बातचीत और फिर प्यार हो गया. दोनों का प्यार ऐसा परवान चढ़ा कि वो घर से भाग कर मधुबनी से सिमरी बख्तियारपुर आ गयी. प्रिया आदित्य नामक युवक के घर पर पहुंच गई और शादी के लिए अड़ गयी. लोगों की भीड़ जमा हुई फिर हाई वोल्टेज ड्रामा के बीच पुलिस ने थाना परिसर स्थित शिव मंदिर में दोनों की शादी करा दी.

प्रिया ने बताया कि फेसबुक पर हुई दोस्ती के बाद वाट्सअप पर मैसेज की चैटिंग शुरू हुई. काफी दिनों तक यह सिलसिला चला. बातचीत के बाद वीडियो कॉल भी होने लगा और लड़का उसके घर भी जाने आने लगा और दोनों के बीच रिश्ता भी बन गया. इस फेसबुकिया प्रेम की शुरूआत पांच वर्ष पूर्व हुई थी. सिमरी बख्तियारपुर नगर परिषद क्षेत्र के हटिया गाछी निवासी आदित्य राज से के मुकरने पर मौजूद भीड़ को लड़की ने अपनी आपबीती सुनाई. इस बीच युवती भीड़ के बीच युवक को बुलाने की मांग करती रही.

अंतत: 3 घंटा चले हाई वोल्टेज ड्रामा के बाद भी युवक के घर वालों ने घर का दरवाजा नहीं खोला, जिसके बाद स्थानीय पुलिस को इस बात की सूचना दी गयी. पुलिस इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए लड़की को थाना ले गई. बाद में प्रेमी युवक आदित्य राज को थाना बुलवाया गया, जहां वह युवती से शादी करने पर राजी हो गया. दोनों की शादी थाना परिसर स्थित शिव मंदिर में करायी गया जिसका साक्षी सिमरी बख्तियारपुर थाना की पुलिस और स्थानीय लोग भी बने.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here