समस्तीपुर। प्रखंड के सिबैसिगपुर पंचायत के चार वार्डों के करीब 11 सौ परिवार बाढ के पानी से बेघर हो गए हैं। करीब 5000 हजार आबादी बाढ के कारण तबाह है। घरों में पानी घुस जाने के कारण वे सभी बांध पर अपना आश्रय स्थल बना रखा है। लोग किसी तरह तंबू गाड़कर गुजर बसर कर रहे हैं। हालांकि अचलाधिकारी के द्वारा पीड़ित परिवारों को पॉलिथीन उपलब्ध करा दिया गया है।

जानकारी के अनुसार खानपुर प्रखंड के सिबैसिगपुर पंचायत के वार्ड 1,2,3,4 पूरी तरह बाढ के पानी से घिर चुका है। बूढी गंडक का पानी लोगों के घरो में घुस गया है। लोग परेशान हैं। घर में पानी घुसने के कारण उंचे स्थलों पर लोगों ने शरण लेना शुरू कर दिया है। इस गांव में आवागामन के सारे रास्ते भी बंद हो चुके हैं। नाव से लोग आवाजाही कर रहे हैं। घरों में पानी घुसने के कारण लोगों को सैकड़ों क्विटल अनाज भी बर्बाद हो गया है। पीने का पानी, शौचालय,भोजन आदि की समस्या उत्पन्न हो गई है। गांव के खेतों में लगी फसलें पूरी तरह बर्बाद हो चुकी है। तटबंध पर किसी तरह पॉलिथीन में परिवार एवं बाल-बच्चों के साथ लोगों ने शरण ले रखा है। स्थानीय मुखिया दीपक कुमार झा हरसंभव मदद पहुंचाने में जुटे हैं। स्थानीय प्रशासन भी लोगों को मदद करने में जुट गई है। अंचलाधिकारी राजन कुमार दिवाकर खुद अपनी देखरेख में लोगों के बीच पॉलिथीन का वितरण कराया। साथ ही छह हजार रुपये भी सभी परिवारों को दिए जाएंगे। सामुदायिक किचेन भी शुरू कराया जा रहा है, जहां लोगों को दोनों समय निशुल्क भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। बीडीओ गौरी कुमारी, अंचल निरीक्षक भुनेश्वर लाल, राम औतार मुखिया, कार्यपालक सहायक रूपक कुमार समेत अन्य ने भी बाढ पीड़ितों का जायजा लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here