दरभंगा /केवटी। प्रखंड की छतवन पंचायत के दलित टोला में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर झंडोत्तोलन के लिए गये सीआई सुधीर कुमार सिंह को वहां के बाढ़ पीड़ितों ने राहत नहीं मिलने को लेकर बंधक बना लिया और रैयाम- मुरिया मार्ग को जाम कर आवागमन ठप कर दिया। इस दौरान सड़क के दोनों किनारे वाहनों की लम्बी कतारें लग गई । बाढ़ पीड़ित उनसे राहत राशि के भुगतान में प्रशासन पर अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए इसकी जांच कराये जाने की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि इसी पंचायत के वार्ड 12,13,14 में राशि का भुगतान किया गया है जबकि बाढ़ प्रभावित सामान्य रूप से एक से 11 भी है। बाढ़ पीड़ित राहत की राशि नहीं मिलने पर आक्रोश व्यक्ति करते हुए इसकी उचित जांच कराने की मांग सीआई से कर रहे थे। सीआई से समुचित जबाब नहीं मिलने पर बड़ी संख्या में पुरुष और महिलाएं वहां पहुंच गये और सीआई को बंधक बना लिया और सीओ को बुलाने की मांग शूरू कर दी। लोगों ने लगभग तीन घंटे तक सीआई को बंधक रखा और सड़क जाम रखी। सूचना मिलते ही बीडीओ महताब अंसारी, सीओ गंगेश झा तथा केवटी तथा रैयाम थाना पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया और लोगों को समझा- बुझाकर शांति किया। अधिकारियों ने इस संबंध में जांच कर वरीय अधिकारी को अवगत कराते हुए आवशयक पहल का अश्वासन देने पर सीआई को मुक्त कर दिया गया। बाढ़ पीड़ितों ने बाढ़ की स्थिति की जांच कराने को लेकर एक आवेदन सीओ के नाम दि़या। सीओ गंगेश झा ने बताया कि झंडोत्तोलन के दौरान घेराव कर सीआई को बंधक बनाने और सड़क जाम करने की जांच कर दोषी पर कार्रवाई होगी। उधर, इस मामले में केवटी थाने में एफआईआर दर्ज की गई है। सीआई के आवेदन पर दर्ज एफआईआर में 11 नामजद सहित अन्य सौ से दो सौ लोगों को आरोपित किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here