कोयले की कमी की वजह से लोगों को बिजली की कटौती जैसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही कोयले से बनने वाली बिजली से प्रदूषण भी अधिक होता है। जिससे वातावरण को हानि पहुंचता है। हालांकि सरकार इन सब से बचने हेतु सौर ऊर्जा को बढ़वा दे रही है। लोगों को इसके लिए प्रेरित किया जा रहा है। दरसल अब इसी क्रम में बिहार में लोगों को निजी परिसर में सोलर प्लांट लगाने पर अनुदान मिलेगा। हालांकि सरकार की यह योजना सौर ऊर्जा के प्रति लोगों को जागृत करेगी

आपको बता दूं कि 3 किलोवाट तक सोलर पावर प्लांट लगवाने पर बिहार सरकार 65 प्रतिशत, जबकि उससे अधिक क्षमता के लगाने पर 45 प्रतिशत का अनुदान देगी। अब बिहार में कोई भी व्यक्ति अपने निजी परिसर में 1 से 10 किलो वाट और हाउसिंग सोसाइटी में 500 किलोवाट क्षमता का सोलर प्लांट लगवा सकता हैं। इसके लिए आज से आवेदन प्रारंभ हो गया है। हालांकि कंपनी के आला अफसरों का कहना है कि आवेदन के लिए 22 जुलाई से साउथ बिहार और नार्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी की वेबसाइट पर लिंक उपलब्ध हो जाएंगे।

जहां से आप सोलर पावर प्लांट के लिए अप्लाई कर सकते हैं। आला अधिकारियों का कहना है कि केवल 500 रुपए देकर कोई भी व्यक्ति वेबसाइट पर ऑनलाइन आवदेन कर सकते हैं। जिसके बाद बिजली कंपनी सभी आवदेनों को शार्ट लिस्ट करेगी। उसके बाद सोलर प्लांट लगाने की प्रक्रिया प्रारंभ करेगी। अभी वेंडर के चयन की प्रक्रिया हो रही है। चुने गए वेंडरों के द्वारा 5 वर्षो तक लगे रूफटॉप सोलर प्लांट का रखरखाव किया जाएगा। परिसर के लिए 1 किलोवाट 46923 रुपये 65 प्रतिशत, 1 से 2 किलोवाट 43140 रुपये 65 प्रतिशत, 2 से 3 किलोवाट 42020 रुपये 65 प्रतिशत, 3 से 10 किलोवाट 40991 रुपये 45 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा। जबकि हाउसिंग सोसाइटी के लिए 1 किलोवाट 46923 रुपये 45 प्रतिशत,1 से 2 किलोवाट 43140 रुपये 45 प्रतिशत, 2 से 3 किलोवाट 42020 रुपये 45 प्रतिशत, 3 से 10 किलोवाट 40991 रुपये 45 प्रतिशत, 10 से 100 किलोवाट 38236 रुपये 45 प्रतिशत, 100 से 500 किलोवाट 35886 रुपये 45 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा।

अगर कोई व्यक्ति निजी परिसर में सोलर प्लांट लग जाता है उस स्थिति में 1 किलोवाट के लिए 46923 रुपये 65 प्रतिशत, 1 से 2 किलोवाट के लिए 43140 रुपये 65 प्रतिशत, 2 से 3 किलोवाट के लिए 42020 रुपये 65 प्रतिशत, 3 से 10 किलोवाट के लिए 40991 रुपये 45 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा। निजी परिसर के अलावा हाउसिंग परिसर में सोलर प्लांट लगाने पर 1 किलोवाट के लिए 46923 रुपये 45 प्रतिशत, 1 से 2 किलोवाट के लिए 43140 रुपये 45 प्रतिशत, 2 से 3 किलोवाट के लिए 42020 रुपये 45 प्रतिशत, 3 से 10 किलोवाट के लिए 40991 रुपये 45 प्रतिशत, 10 से 100 किलोवाट के लिए 38236 रुपये 45 प्रतिशत, 100 से 500 के लिए किलोवाट 35886 रुपये 45 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here