लगातार ऐसे मामले बढ़ते जा रहे हैं। अनजान वीडियो कॉल के रिसीव करते ही आप हो सकते हैं साइबर अपराध के शिकार। बाद में इसी आपत्तिजनक वीडियो के नाम पर खाते में रुपये की मांग की जाएगी। आप ऐसी लड़कियों से संभल जाइए।

पिन और पासवर्ड मांग कर बैंक अकाउंट से पैसे उड़ाने के साइबर क्राइम की बातें तो खूब चर्चा में है और इस पर बिहार और झारखंड के बार्डर पर अवस्थित जिले के नाम पर फिल्म भी बन चुकी है।

इन दिनों साइबर क्राइम करने वाले एक नए तरीके का खुलेआम इस्तेमाल कर रहे हैं। हर हाथ में उपलब्ध मोबाइल व्हाट्सएप के जरिए लोगों को साधारण तरीके से वीडियो काल करके सामने वाला निर्वस्त्र अवस्था में वीडियो की रिकार्डिंग कर लेता है और इसे वायरल करने की धमकी देकर अपने अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करा रहा है।

इन दिनों तेजी से बढ़ा है यह वाक्या

यह वाक्या इन दिनों लगातार काफी तेजी से बढ़ा है और इसके शिकार समाज के अच्छे नागरिक, पत्रकार और रसूखदार भी हो रहे हैं। जो मान और प्रतिष्ठा बचाने के डर से घबराहट में इस स्कैंडल साइबर क्राइम के शिकार होकर अपना सब कुछ लुटा रहे हैं।

मामले की पड़ताल के लिए व्हाट्सएप पर आए 6372651045 नंबर से एक लड़की ने वीडियो काल करने का आग्रह स्वीकार किया तो काल आन होते ही सामने निर्वस्त्र अवस्था में एक लड़की खड़ी थी। माजरा समझ आने लगा था।

उसने अपना नाम पिंकी शर्मा पुणे बताया और तुरंत पैसे ट्रांसफर करने के लिए मजबूर करने लगी। पैसे ट्रांसफर करने के लिए उसने सरवन कुमार एक्सिस बैंक शास्त्री नगर जयपुर का पूरा डिटेल भेज दिया।

आपत्तिजनक पोस्ट बनाकर वायरल करना प्रारंभ

15000 तुरंत नहीं ट्रांसफर होने पर वीडियो वायरल कर देने और उस वीडियो में काट छांट कर आपत्तिजनक पोस्ट बनाकर वायरल करना प्रारंभ भी कर दिया।

इतने पर भी जब पैसा ट्रांसफर नहीं हुआ तो घंटों के इंतजार के बाद दिल्ली साइबर सेल के पदाधिकारी के रूप में एक दूसरा काल किया गया। ताकि सामने वाले को दबाव में लेकर घबराहट में ब्लैकमेल कराया जा सके।

इस मामले की चर्चा होने पर कई लोगों ने कहा कि वे भी इस घटना के शिकार हो चुके हैं, परंतु सामाजिक मान प्रतिष्ठा के डर से कुछ बोल नहीं पा रहे थे।

पैसा मांगने का सिलसिला जारी रहा

मीडिया संवाददाता ने उक्त स्कैंडल साइबर गिरोह के हर मिनट के वीडियो काल की पूरी रिकार्डिंग करने के बाद जब अपना परिचय भी ब्लैकमेलर को दिया तब भी वह नहीं घबराई और पैसा मांगने का सिलसिला जारी रहा।

ऐसे में हर हाथ में उपलब्ध मोबाइल व्हाट्सएप वीडियो कॉलिंग आपके घर के बेटे-बेटी बुजुर्ग और इंटरनेट मीडिया के खतरे से अनभिज्ञ लोगों को बड़े खतरे में डाल सकता है और लोग बड़े जोखिम में अपने धन के साथ जान और मान का भी खतरा उठा सकते हैं।

यह भी पढ़ें इंटरनेट चलाने के लिए गंगा पार कर बिहार से यूपी चले गए 5 किशोर, लौटने के दौरान डूबने से एक की मौत

कल्याणपुर वारिसनगर में दाखिल खारिज के 2174 मामले मिले लंबित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here