बिहार के गया में पितृपक्ष के एक पखवारे के दौरान अजब-गजब नजारे देखने को मिलते हैं। इसी के तहत शराब से पिंडदान (श्राद्ध) करते हुए एक वीडियो वायरल हुआ है। जबकि, सूबे में शराब की बिक्री पर प्रतिबंध है। बताया जाता है कि पिंडदानी उत्तर प्रदेश के गाजीपुर के रहने वाले हैं। उन्होंने शराब के बारे में पूछने पर कहा कि उनके पुरोहित ने कहा था कि गयाजी में जाकर पिंडदान करें। प्रेतशिला पर शराब से कर्मकांड करने से  प्रेत योनी से मुक्ति मिलती है। इसी कारण शराब के साथ अन्य सामग्री से पिंडदान किया। बता दें कि प्रेतशिला पहाड़ गया शहर से करीब 10 किलोमीटर दूर है। वहां दोनों पिंडदानियों ने खुलेआम शराब से कर्मकांड किया।

यूपी से लेकर आए थे शराब

पिंडदानी पितरों को खुश करने के लिए  प्रेतशिला पर पीला सरसो, लौंग, जाफर  और शराब घर से लेकर आए थे, जिससे उन्होंने कर्मकांड किया। उन्होंने कहा कि प्रेतशिला पर शराब से कर्मकांड करने से  प्रेत योनी से मुक्ति मिलती है। इसी कारण उन्‍होंने शराब से पिंडदान किया।

उठने लगे कई सवाल

सवाल यह कि उत्तरप्रदेश से शराब लेकर वे पहुंचे कैसे? मेला पुलिस और प्रशासन की मौजूदगी में कड़ी जांच के बीच वे शराब लेकर पिंडवेदी तक कैसे पहुंच गए? प्रशासन का दावा है कि जगह-जगह पर पुलिस बल तैनात है।ऐसे में सवाल ट्रेन में की गई जांच पर भी डइ रहे हैं। अगर मेला में कोई शराब लेकर पहुंच सकता है तो कोई दूसरा हथियार लेकर भी पहुंच सकता है। यह घटना पुलिस व प्रशासन की पोल खोल रही है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here