पटना.औरंगाबाद जेल में बंद कैदी की मौत को लेकर जहानाबाद के परसबीघा थाना क्षेत्र के नेहालपुर में लोगों ने सड़क जाम कर हंगामा शुरु कर दिया. हंगामा शांत करवाने पहुंची पुलिस पर स्थानीय लोगों ने हमला कर दिया. जिसमें एक महिला पुलिसकर्मी की मौत हो गई और करीब आधा दर्जन पुलिसकर्मी जख्मी हो गए हैं. उन्हें इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजा गया है. जहां पर उनकी स्थिति चिंताजनक बनी हुई है. आस पास की पुलिस और सीनियर अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं.

दरसअल, यह पूरा मामला शराब के कारोबार से जुड़ा है. कुछ दिन पहले परसबीघा थाना की पुलिस ने सरता गांव से शराब कारोबारी गोविंद मांझी को गिरफ्तार कर औरंगाबाद जेल भेज दिया था. उसकी शनिवार को जेल में मौत हो गई. इसकी सूचना मिलते ही गांव के लोग भड़क गए. पुलिस पर शराब कारोबारी को थाना में मारपीट करने का आरोप लगाते हुए जहानाबाद अरवल एनएच 110 को जाम कर दिया और हंगामा करने लगे. मामले की सूचना मिलने पर परसबीघा थाना की पुलिस जब घटनास्थल पर पहुंची तो सड़क जाम कर रहे ग्रामीण आक्रोशित हो गए.

मामले की सूचना मिलने पर परसबीघा थाना की पुलिस जब घटनास्थल पर पहुंची तो सड़क जाम कर रहे ग्रामीण आक्रोशित हो गए. उन लोगों ने पहले पुलिस पर पथराव शुरु कर दिया, फिर गोलीबारी शुरु कर दी. जिससे भगदड़ मच गयी. इसी क्रम में एक वाहन की चपेट में आने से महिला पुलिसकर्मी जख्मी हो गई. जिसे तत्काल सदर अस्पताल ले जाया गया. लेकिन वहां पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई. जहानाबाद के एसपी दीपक रंजन ने बताया कि इस घटना में छह पुलिसकर्मी भी जख्मी हुए हैं. पुलिस ने इस मामले में आधा दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में लिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here