शराब पर पूर्ण प्रतिबंधित राज्‍य बिहार के पश्चिम चंपारण में जहरीली शराब कांड में मरने वालों की संख्या बढ़कर 16 हो गई है। पुलिस ने 5 लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। वहीं मामले पर बिहार की डिप्टी सीएम रेणु देवी ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा था कि जांच चल रही है। संबंधित अधिकारी इस पर काम कर रहे हैं। स्थानीय लोग इस बारे में बात करने को तैयार नहीं हैं। हम स्थिति पर करीब से नजर रख रहे हैं।

आपको बता दें पश्चिम चम्पारण के लौरिया और रामनगर प्रखंड क्षेत्र में शुक्रवार को छह मरने वालों की पहचान की गई है। गुरुवार को भी आठ लोगों की पहचान हुई थी। शनिवार को दो और मौतें हो गईं। सभी की मौत जहरीली शराब पीने से होने की आशंका जताई जा रही है।   

यह भी पढ़ेंकब है रक्षाबंधन? जानें इस वर्ष राखी बांधने का शुभ मुहूर्त

लौरिया के प्रभारी थानाध्यक्ष केपी यादव ने बताया कि देउरवा के ठग साह, सुरेश साह समेत अन्य को आरोपित किया गया है। मामले मे ठग साह के पुत्र सुमित (22) गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने पांच लोगों को हिरासत में लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। मरने वालों में देउरवा के बिकाउ अंसारी (45), रामवृक्ष पासी, लतीफ शाह, भगवान पांडा, बसवरिया के अमीरूल शाह, गवनाहा के इजहारूल अंसारी, झुन्ना अंसारी, बगही के रातुल मियां, डुमरा देवराज के जुल्फान मियां, पांडापट्टी के अरुण पांडा उर्फ भगवान, जोगिया के सुरेश तुरहा, नईम मियां, वशिष्ठ ड्राइवर, हीरा डोम शामिल हैं। सबेया के गुड्डू अंसारी, ताज मोहम्मद व जवाहिर मियां की मौत बीते 10 व 11 जुलाई को हुई थी। इसमें दो लोगों के परिजनों ने बीमार होने दावा किया है। उन्होंने डीएम कुंदन कुमार समेत अधिकारियों को डॉक्टर की पर्ची भी दिखाई है।   

डीएम कुंदन कुमार बोले

डीएम कुंदन कुमार ने बताया कि हमें बताया गया है कि पिछले 2-3 दिनों में (पश्चिम चंपारण के) एक गांव में रहस्यमय तरीके से करीब 8 लोगों की मौत हो गई. उनके परिवार के सदस्यों और ग्रामीणों ने शराब के सेवन का उल्लेख नहीं किया है। एफआईआर दर्ज कर ली गई है और जांच जारी है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here