बिहार पंचायत चुनाव 2021 में इस बार महिला सशक्तीकरण भी दिखेगा। समस्तीपुर के 4710 मतदान केंद्रों पर दस चरणों में होने वाले पंचायत चुनाव में महिला कर्मियों की भी प्रतिनियुक्ति की जाएगी। इस संबंध में निर्वाचन आयोग ने डीएम को तैयारी करने को का निर्देश दिया है। प्रशासनिक अनुमान के तहत पंचायत चुनाव में करीब 28 हजार कर्मी की आवश्यकता है। प्रत्एक मतदान केंद्रों पेर कम से कम आधा दर्जन चुनाव कर्मी रहेंगे। कर्मियों व पदाधिकारियों के आंकलन को लेकर निर्वाचन विभाग जुट गया है।

जारी निर्देश में कहा गया है कि पंचायती राज व्यवस्था में पचास प्रतिशत महिलाओं के लिए पद आरक्षित है। चुनाव कराने के लिए कर्मी अधिक लगने के कारण महिला कर्मियों को भी निर्वाचन कार्य में लगाया जाए। महिलाओं को ऐसे चिन्हित स्थानों पर लगा जाएगा जहां आवागमन, संचार व अन्य आधारिक संरचना आदि की सुविधा हो। इसके तहत प्रखंड मुख्यालय व उसके आसपास के स्थानों पर महिला कर्मियों की तैनाती की जाएगी। हालांकि दस चरण में होने वाले इस चुनाव को लेकर कर्मियों की कोई कमी नहीं होगी। पहले चरण के बाद दूसरे चरण में भी कर्मियों से चुनावी कार्य लिया जा सकता है। चुनाव पूर्व कर्मियों का डाटा सभी विभागों से एकत्र कर साफ्टवेयर पर लोड करना है। इसको लेकर सभी विभाग से कर्मियों की सूची तलब की गई है। 

गर्भवती व बीमार कर्मियों को मिलेगी छूट
गर्भवती, बीमार, निशक्त और आवश्यक सेवाओं में शामिल कर्मियों को पंचायत चुनाव की ड्यूटी से मुक्त रखा जाएगा। इस बार ईवीएम व बैलेट बॉक्स दोनों का उपयोग पंचायत चुनाव में होना है। सरपंच व पंच पद का मतदान बैलेट पेपर से होगा और अन्य चार पदों का चुनाव ईवीएम से होगा। इसको लेकर इस बार एक मतदान केंद्र पर कम से कम छह मतदान कर्मियों की तैनाती की जाएगी। 

एक मतदान केंद्र पर रहेंगे 6 कर्मी 
जिले के 20 प्रखंडों में इस बार 4780 मतदान केंद्र बनाए गए है। एक केंद्र पर छह मतदान कर्मी के हिसाब से कुल 28 हजार 680 मतदान कर्मी बूथों पर तैनात किए जाएंगे। वहीं बीस प्रतिशत यानी 56 सौ मतदान कर्मियों को रिर्जव रखा जाएगा। इसके अलावा करीब डेढ़ हजार अधिकारी, दंडाधिकारी व अन्य कर्मियों की तैनाती की जाएगी। प्रशासनिक सुत्रों की माने तो इस चरण में चुनाव होने पर कर्मियों की कोई कमी नहीं होगी।

8वें चरण में सबसे ज्यादा बूथों पर होगा मतदान 
जिले में दस चरणों में मतदान कराया जाएगा। इसको लेकर हर प्रशासनिक स्तर पर तैयारियां शुरू है। दस चरणों में होने वाले इस चुनाव में आठवें चरण में सबसे ज्यादा बूथों पर मतदान होगा। प्रथम चरण में 528 बूथों पर, दूसरे चरण में 573 बूथों पर, तीसरे चरण में 427 बूथों पर, चौथे चरण में 481 बूथों पर, पांचवें चरण में 491 बूथों पर, छठे चरण में 481 बूथों पर, सातवें चरण में 377 बूथों पर, आठवें चरण में 647 बूथों पर, नौवें चरण में 391 बूथों पर व दसवें चरण में 384 बूथों पर मतदान कराया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here