कोरोना के संभावित तीसरी लहर की आहट शुरू हो गई है. देश के कई राज्यों में कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं. केरल में संक्रमण की रफ्तार काफी अधिक है. वहीं बेतिया के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल के कोरोना आईसोलेशन वार्ड में इलाजरत पूर्वी व पश्चिमी चंपारण के एक-एक मरीज की मौत हो गयी. दोनों कोरोना के संदिग्ध मरीज थे.

मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अधीक्षक डॉ प्रमोद तिवारी ने बताया कि मंगलवार को मोतिहारी के अवधेश साह की मृत्यु आइसोलेशन वार्ड में इलाज के दौरान हो गयी. उन्हें 30 जुलाई को जीएमसीएच में भर्ती कराया गया था. जबकि पश्चिम चंपारण के डीके शिकारपुर के रहने वाली रीता देवी की मृत्यु बुधवार की दोपहर हुई है. उन्हें 31 जुलाई को आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था.

उन्होंने आगे कहा कि दोनों में कोरोना के लक्षण थे. दोनों के शवों को कोरोना प्रोटोकाल (Corona Protocol) के तहत अंतिम संस्कार करने की अनुमति दी गई है. बता दें कि जिले में कोरोना के छह सक्रिय मामले हैं. चनपटिया में एक नया संक्रमित मिला है. जबकि अबतक 358 लोगों की मौत हो चुकी है.

बताते चलें कि बिहार में मंगलवार को नये मरीजों की संख्या बढ़कर 60 हो गया. पिछले 24 घंटों में राज्य में 1,35,618 सैंपलों की जांच में ये मामले सामने आये हैं. सूबे का संक्रमण दर 0.04 फीसदी हो गया है. जो सोमवार को 0.03 फीसदी था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here