बिहार की राजनीति में एक बड़ा घमासान मच गया है. यहां सत्ता पर काबिज जनता दल यूनाइटेड (JDU) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) का गठबंधन अब टूट गया है. बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अवास पर जदयू विधायकों की एक बैठक बुलाई गई थी.

बैठक में भाजपा के साथ गठबंधन खत्म करने का फैसला हुआ है. जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने जानकारी दी कि जदयू-भाजपा गठबंधन अब आधिकारिक रूप से बिखर चुका है. पार्टी की बैठक में जेडीयू के विधायकों, सांसदों और नेताओं ने साफ तौर पर कहा है कि वे नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के हर फैसले के साथ हैं.

कल हो सकता है शपथ ग्रहण समारोह

नीतीश कुमार (Nitish Kumar) एक बार फिर से महागठबंधन में घर वापसी करने वाले हैं. आज शाम चार बजे नीतीश कुमार इस्तीफा दे दिया है. इसके बाद वे महागठबंधन के नेता तेजस्वी यादव से मुलाकात करेंगे. कल बुधवार को सीएम नीतीश महागठबंधन के साथ नई सरकार बनाएंगे. शपथ ग्रहण समारोह बुधवार शाम को 4 बजे होगा. तेजस्वी यादव बिहार ने उपमुख्यमंत्री होंगे

कई मुद्दों पर आमने-सामने थी बीजेपी-जदयू

जानकारी के अनुसार किसी एक घटना की वजह से नहीं बल्कि पिछले डेढ़ साल में जिस तरह से बीजेपी और जेडीयू (BJP-JDU) अलग-अलग मुद्दों पर आमने सामने आए हैं, वह सभी इस दूरी को बढ़ाते चले गये हैं. हाल फिलहाल की घटनाओं की बात की जाए तो पहले स्पीकर के साथ नीतीश की कहा सुनी, उसके बाद अग्निपथ योजना के दौरान बीजेपी नेताओं के द्वारा नीतीश पर सवाल उठाना और उसके बाद उन तामम नेताओं को केंद्रीय सुरक्षा प्रदान करना एक तरह से बिहार सरकार पर सवाल उठाने जैसा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here