बिहार में पिछले दिनों अग्निपथ योजना के विरोध में हुए हिंसक प्रदर्शनों के चलते रेल सेवा बुरी तरह प्रभावित हुई। पूर्व मध्य रेलवे मंगलवार से लंबी दूरी की ट्रेनों का संचालन शुरू करने जा रहा है। इससे यात्रियों को सुविधा होगी। हालांकि मैनपावर और रैक की व्यवस्था नहीं होने से बिहार से चलने या गुजरने वाली 243 ट्रेनें मंगलवार को भी रद्द रहेंगी। इनका संचालन आगामी दिनों में शुरू होने की संभावना है।

रेल मुख्यालय हाजीपुर ने ट्रेन संचालन की व्यवस्था के लिए सोमवार को पूरे दिन मंथन किया। सभी रेल मंडलों को जोन की ओर से ट्रेनों की रैक उपलब्धता के निर्देश दिए। दानापुर रेल मंडल के विभिन्न विभागों में दिनभर गहमाहमी रही। सभी कर्मचारियों को अलर्ट रहने के लिए कहा गया।

रेलवे सूत्रों की मानें तो फिलहाल बोर्ड से 60 फीसदी ट्रेनों के संचालन की इजाजत मांगी गई है। इनमें से अधिकतर ट्रेनों के संचालन की मंजूरी सोमवार शाम तक मिल गई। सोमवार को राजेंद्र नगर टर्मिनल से एक घंटे की देरी से दिल्ली के लिए तेजस राजधानी और संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस रवाना हुई। पटना के रेलवे स्टेशनों पर बड़ी संख्या में यात्री फंसे हैं। राजधानी और संपूर्ण क्रांति के अलावा साउथ बिहार एक्सप्रेस, हावड़ा एक्सप्रेर, कामाख्या एक्सप्रेस, एलटीटी मुंबई एक्सप्रेस, राजेंद्र नगर-बांका ट्रेन, दानापुर-बेंगलुरु एक्सप्रेस और दानापुर-पुणे एक्सप्रेस ट्रेन भी सोमवार को बहाल हो गई। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here