समस्तीपुर। बिहार कालाजार मुक्त राज्य घोषित है। मगर आज भी इस बीमारी का खतरा बना हुआ है। बालू मक्खी से फैलने वाली इस बीमारी से समस्तीपुर जिला भी अछूता नहीं है। इस जिले के 20 प्रखंडों की 170 पंचायतों के अंतर्गत 198 गांव की कुल एक लाख 80 हजार 423 घरों में कालाजार का खतरा बना हुआ है।

रिपोर्ट के अनुसार जिले में 9 लाख 14 हजार 265 की आबादी अभी भी कालाजार प्रभावित गांव में रह रही है। कालाजार की जांच प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में किट से होती है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार जिले में पिछले पांच वर्षों से कालाजार से मौत नहीं हुई है। जबकि विभाग के दावे हैं कि चार साल में कालाजार के 271 मरीज मिले हैं। इस कारण इस बार 15 जुलाई से जिले के चिह्नित गांवों एवं घरों में दवा का छिड़काव कराया जाएगा।

किस प्रखंड के कितने घर में होगा छिड़काव

उजियारपुर में 2798, विद्यापतिनगर में 6350, मोहिउद्दीनगर में 13602, दलसिंहसराय में 4971, मोहनपुर में 10020, विभूतपिुर में 23934, खानपुर में 5280, कल्याणपुर में 16650, पूसा में 325, वारिसनगर में 15080, ताजपुर में 3076, समस्तीपुर में 7801, पटोरी में 13834, सरायरंजन में 17641, मोरवा में 13837, सिघिया में 5678, शिवाजीनगर में 7012, रासेड़ा में 3888, हसनपुर में 5360, बिथान में 3286 घरों में छिड़काव होना है। —

जानिए क्या है कालाजार

कालाजार बालू मक्खी से फैलने वाली बीमारी है। यह मक्खी नमी वाले स्थानों पर अंधेरे में पाई जाती है। यह तीन से छह फीट की ऊंचाई तक उड़ती है। इसके काटने के बाद व्यक्ति बीमार हो जाता है। उसे बुखार आ जाती है। इस बीमारी में मरीज का पेट फूल जाता है। भूख कम लगती है। शरीर पर काला चकता पड़ जाता है। लक्षण दिखने पर मरीज को चिकित्सक के पास जाना चाहिए। — ऐसे होगा दवा का छिड़काव बालू मक्खी जमीन से छह फीट की ऊंचाई तक उड़ सकती है। ऐसे में चिह्नित सभी घरों में सिथेटिक पाइराथायराइड दवा का छिड़काव किया जाएगा। घर के अंदर तथा बाहर छह फीट तक इस दवा का छिड़काव किया जाएगा। छिड़काव के बाद तीन महीने तक घर के अंदर रंगाई-पुताई नहीं होनी चाहिए। इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग ने छिड़काव कर्मियों को प्रशिक्षण दिया है। — वर्जन जिले में कालाजार बीमारी पूरी तरह नियंत्रण में है। वर्ष 2018 से मई 21 तक जिले के अलग-अलग प्रखंडों के गांव से कुल 271 मरीज मिले हैं। विभागीय निर्देशानुसार 15 जुलाई से चिह्नित प्रखंडों के एक लाख 80 हजार 423 घरों में दवा का छिड़काव किया जाएगा। इसकी तैयारी कर ली गई है। डॉ. विजय कुमार जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी, समस्तीपुर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here