बिहार के बेगूसराय जिले के सिमरिया घाट पर अलग-अलग विकास योजनाओं के साथ-साथ मछली पालन प्रशिक्षण केंद्र भी खोला जाएगा। आपको बता दूं कि सूबे के जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा ने प्रशिक्षण केंद्र खोलने को लेकर डीडीसी को विभाग के पास प्रस्ताव भेजने का आदेश दिया। शनिवार को समाहरणालय स्थित कारगिल विजय भवन में जिला गंगा समिति की आहूत बैठक हुई उस दौरान डीएम ने मछली पालन प्रशिक्षण केंद्र के लिए सिमरिया घाट स्थित धर्मशाला के नजदीक की खाली पड़े भूमि पर प्रशिक्षण केंद्र खोलने के बारे में कहा.

बैठक के दौरान उन्होंने सिमरिया घाट परिसर की साफ-सफाई, सिमरिया घाट के विकास के लिए एनबीसी के मदद से लोकेशन सहित सिगल मास्टर प्लान तैयार कराने, गंगा आरती वाले स्थान पर साफ-सफाई की व्यवस्था एवं रोशनी का प्रबंध आदि करने का निर्देश संबंधित अधिकारी को दिया। सिमरिया घाट परिसर क्षेत्र में बायोडायवर्सिटी पार्क बनाने के लिए वन प्रमंडल पदाधिकारी को जरूरी मानचित्र उपलब्ध कराने तथा अंचलाधिकारी बरौनी को स्थान चिह्नित कर नक्शा एवं भूमि विवरण बिना किसी देरी के उपलब्ध कराने का आदेश दिया।

सिमरिया धाम में गंगा घाट किनारे सड़क निर्माण हेतु जरूरी प्राक्कलन तैयार कर अगली बैठक में भाग लेने का आदेश पथ निर्माण विभाग को दिया। इसके अलावा झमटिया एवं अयोध्या घाट पर प्रस्तावित चेंजिग रूम, शौचालय तथा हाई मास्ट लाइट लगाने हेतु जगह चिह्नित करने के संबंध में स्पष्ट प्रतिवेदन देने का निर्देश दिया। डीएम ने डीडीसी को तेघड़ा एसडीओ के नेतृत्व में कार्यपालक अभियंता पीएचईडी, बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल, भवन एवं विद्युत आपूर्ति प्रमंडल से फिर से स्थलीय मुआयना करवाने का आदेश दिया।

उन्होंने बैठक के दौरान शवदाह गृह के पास में श्रद्धालुओं के बैठने हेतु बने शेड एवं आस-पास के स्थल को अतिक्रमण से मुक्त कराने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने गंगा के जल स्तर में वृद्धि की सूचना भी कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद बीहट को उपलब्ध कराने का आदेश दिया। ताकि श्रावणी मेला को लेकर सिमरिया घाट पर आने वाले श्रद्धालुओं एवं कांवरियों के लिए आवश्यक सुरक्षा हेतु कार्य किया जा सके। बता दूं कि बैठक के दौरान डीडीसी सुशांत कुमार, जिला पंचायती राज पदाधिकारी मुकेश कुमार सिन्हा समेत अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here