पटना. बोधगया ब्लास्ट से जुड़े 9 आतंकियों की शुक्रवार को पटना की विशेष अदालत में सुनवाई हुई. एनआइए की विशेष अदालत ने सभी नौ आरोपितों को 30 दिनों के रिमांड पर भेज दिया है. जहीरुल शेख समेत 9 आतंकियों को एटीएस की कड़ी सुरक्षा के बीच पटना के एनआइए कोर्ट लाया गया था.

पेशी के दौरान एनआइए की तरफ से इन सभी नौ आतंकियों की एक माह के लिए रिमांड पर देने की अर्जी लगायी गयी थी. इस पर करीब दो घंटे की सुनवाई के बाद कोर्ट ने इन सभी नौ आतंकियों को एक महीने के लिये रिमांड पर सौंप दिया.

एनआइए इन आतंकियों से बोधगया और वर्धमान बम ब्लास्ट मामले में पूछताछ करेगी. जिन 9 आतंकवादियों को रिमांड पर दी है, उसमें से 5 आतंकी बोधगया बम ब्लास्ट मामले में सजायाफ्ता हैं, जबकि चार ऐसे आतंकी हैं, जिन्होंने बंगाल में वर्धमान में बम ब्लास्ट की बड़ी घटना को अंजाम दिया.

कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच इन आतंकियों को कोलकाता से बिहार लाया गया है. एयरपोर्ट पर भी काफी पुख्ता इंतजाम किये गए हैं. अतिरिक्त फोर्स की तैनाती की गयी है. बोधगया सीरियल बम ब्लास्ट मामले में एनआईए कोर्ट की विशेष अदालत ने 2018 में पांच आतंकी को कोर्ट ने दोषी करार दिया था.

एनआईए कोर्ट की विशेष न्यायाधीश मनोज कुमार सिन्हा ने 25 मई को आंतकी मानते हैदर अली उर्फ ब्लैक ब्यूटी, अजहरुउद्दीन ,उमर सिद्दकी, इम्तियाज अंसारी और मुजीबुल्लाह को दोषी करार दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here