भोजपुर के बड़हरा थाना क्षेत्र के पुराना बिंदगांवा के दियारा इलाके में रविवार को आधा दर्जन थानाें की गाड़ियों पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया गया, जिससे पुलिस की गाड़ियों का शीशा चकनाचूर हो गया. पुलिस बालू के अवैध खनन रोकने के लिए छापेमारी करने गयी थी. इसी दौरान आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस की गाड़ियों पर हमला कर दिया.

पत्थरबाजी के कारण पुलिस को भागना पड़ा

इस दौरान बड़हरा, कोइलवर, चांदी, सिन्हा, मुफस्सिल थाने की पुलिस गाड़ियों के साथ डीएसपी व खनन विभाग की गाड़ी को भी आक्रोशित लोगों ने अपना निशाना बनाया. आक्रोशितों के पत्थरबाजी के कारण पुलिस को वहां से भागना पड़ा. हालांकि कुछ देर बाद मुख्यालय से अतिरिक्त पुलिस बल एवं कई अन्य थानाें की पुलिस वहां पहुंची, जिसके बाद ग्रामीण वहां से भाग खड़े हुए.

गांव-गांव छापेमारी कर रही पुलिस

पत्थरबाजी करनेवाले व पुलिस पर हमला करनेवाले बालू माफियाओं एवं आक्रोशित लोगों की तलाश में पुलिस गांव-गांव जाकर छापेमारी कर रही है. हालांकि चार लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ भी कर रही है.

घाट के पास जब्त नावों को पुलिस कर रही थी नष्ट,तभी हुआ हमला :

घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि बिंदगांवा के दियारा इलाके में पुलिस बालू का अवैध खनन रोकने के लिए टीम बनाकर छापेमारी करने गयी थी. इधर सेमरा गांव के समीप खड़ी नावों को पुलिस क्षतिग्रस्त कर रही थी. तभी ग्रामीण आक्रोशित हो गये और पुलिस की गाड़ियों पर हमला बोल दिये. काफी देर तक अफरातफरी का माहौल कायम रहा. आक्रोशित लोगों का कहना है कि जब से छापेमारी हो रही है. तभी से हमलोग अपना नाव खड़ा कर दिये हैं. पुलिस नावों को काट रही थी.

पुलिस का पक्ष:

हालांकि पुलिस का कहना है कि ये लोग बालू का अवैध खनन कर रहे थे, जिसके कारण नावों को क्षतिग्रस्त किया गया. हालांकि इस घटना में कोई भी पुलिसकर्मी जख्मी नहीं है. बता दें कि बालू का अवैध खनन रोकने गयी पुलिस पर यह हमला कोई नयी बात नहीं है. इसके पहले भी पुलिस पर कई बार विभिन्न क्षेत्रों में हमला हुआ है. गाड़ियों को क्षतिग्रस्त भी किया गया है. पुलिस कर्मियों को चोटें भी आयी हैं.

चार अगस्त को संदेश थाना क्षेत्र के सारीपुर गांव में बालू माफियाओं ने किया था हमला :

संदेश थाना क्षेत्र के सारीपुर सोन घाट पर बालू का अवैध खनन रोकने गयी पुलिस पर बालू माफियाओं ने हमला किया था. इस हमले में संदेश पुलिस को बैकफुट पर आना पड़ा था. बाद में पुलिस द्वारा बालू माफियाओं के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गयी थी. इसके पहले भी इमादपुर थाना क्षेत्र के बिहटा सोन नद के घाट पर पुलिस पर हमला हो चुका है. बड़हरा में भी कई बार हमले हो चुके हैं. बहरहाल पुलिस पूरे मामले में जुटी हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here