कोरोना महामारी के चलते आयी विश्वव्यापी आर्थिक मंदी व मौसम की मार का असर आम जनजीवन पर दिखने लगा है. इसकी वजह से पेट्रोल-डीजल से लेकर यात्री किराया, माल भाड़ा सहित दैनिक जरूरत की कई चीजों के दाम में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. बिहार में प्राइवेट बस ट्रांसपोर्टरों ने किराये का रिवाइज किया है, जिसके बाद अब आम लोगों को यात्रा करने के लिए अधिक पैसे चुकाने होंगे.

जानकारी के अनुसार लगातार पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत के बाद बस ट्रांसपोर्टरों ने किराया बढ़ाने का निर्णय लिया है. अब राज्य में एक बार फिर बस का सफर करना आमलोगों के लिए मुश्किल भरा हो सकता है. बता दें कि बिहार में अनलॉक 3.0 के तहत बसों को चलाने की अनुमति दी गई है.

जानें बसों का लेटेस्ट किराया- बिहार में अब बसों के किराए में प्रतिकिलोमीटर लगभग 1 रूपये की बढ़ोतरी की गई है. यानी अब दरभंगा से पटना आने के लिए सवारी को 300 रूपये देने होंगे, जबकि पहले 150 रूपये चुकाने होते थे. इसके अलावा पटना-नवादा के लिए 140, पटना-बिहारशरीफ के लिए 95, पटना-मुजफ्फरपुर के लिए 150 और पटना-सुपौल के लिए 400 रुपये देने होंगे.

महंगाई के खिलाफ राजद का प्रदर्शन- बिहार में लगातार बढ़ती महंगाई के खिलाफ विपक्षी पार्टी राजद 18 और 19 जुलाई को प्रदर्शन करेगी. राजद का यह प्रदर्शन ब्लॉक और जिला स्तर पर होगा. प्रदर्शन का ऐलान बुधवार को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने की. उन्होंने कहा कि कोरोना काल में महंगाई से आम जनता की कमर टूट गई है, हम सड़क से लेकर सदन तक सरकार का विरोध करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here