पटना से सटे बाढ़ प्रखंड के बाजितपुर मोहल्ले में मॉब लींचिंग की बड़ी वारदात होते होते रह गई। आक्रोशित भीड़ ने कथित आरोपित संतोष कुमार (30) को पकड़कर पोल में बांधकर बेरहमी से पिटाई की। लाठी से हमला कर लोगों ने उसकी जान लेने की कोशिश की। मौके पर पुलिस ने पहुंचकर काफी मशक्कत के बाद भीड़ के चंगुल से युवक को मुक्त कराया।  

पिछले दिनों फल कारोबारी गुल्ला को गोली मारकर जख्मी कर दिया गया था। इस मामले में नालंदा जिले के बिहारशरीफ थाना अंतर्गत बड़ी पहाड़ी मोहल्ला निवासी संतोष कुमार को आरोपित बनाया गया था। वह मामले में फरार था। गुरुवार को संतोष बाजीतपुर मोहल्ले में आया था। इसी दौरान लोगों को उसके आने की भनक लग गई। इसके बाद आसपास के लोगों ने एकजुट होकर संतोष को पकड़ लिया और उसकी पिटाई शुरू कर दी। 

पहले लोगों ने जमीन पर पटक कर संतोष की लात घूंसे से पिटाई की। उसके बाद घसीट कर पोल में बांधकर लाठी से मारना शुरू कर दिया। कुछ लोगों ने पत्थर मारकर भी जान लेने की कोशिश की। संतोष गिड़गिड़ाता रहा, लेकिन भीड़ ने उसे बेरहमी से पीटा। इसी दौरान पुलिस को भनक लग गई। इसके बाद अवर निरीक्षक महेंद्र राम के नेतृत्व में पुलिस मौके पर पहुंची और संतोष को लोगों के आक्रोश से बचाया। 

जख्मी को पुलिस ने इलाज के लिए अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस जख्मी का बयान दर्ज करने में लगी हुई है। जख्मी संतोष का कहना है कि लूट के माल का बंटवारा करने के लिए वह बाजीतपुर आया था। इसी दौरान लोगों ने उसे पकड़ लिया। वह युवक को गोली  मारने में भी शामिल नहीं है। उसे फंसाया गया है। 

स्थानीय पुलिस हमलावरों की शिनाख्त करने में है जुटी

पुलिस पूरे मामले को लेकर जांच पड़ताल कर रही है। संतोष की पिटाई करने में शामिल लोगों को पुलिस नहीं पकड़ पाई है। लोगों ने आरोपित के आने की सूचना पुलिस को देने के बजाय कानून को हाथ में लेने की कोशिश की। गोली मारने की घटना के कई दिन बाद बीत जाने के बाद भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने से लोग गुस्से में थे। पुलिस के अनुसार हमलावरों की शिनाख्त की जा रही है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here