समस्तीपुर रेल मंडल के दरभंगा व सीतामढ़ी स्टेशन को वर्ल्ड क्लास स्टेशन बनाने के लिए रेलवे बोर्ड ने री डैवलपमेंट प्रोग्राम में शामिल किया है। जबकि दूसरे चरण में समस्तीपुर व बापूधाम मोतिहारी को शामिल करने पर विचार किया जा रहा है। दोनों स्टेशन को री डैवलपमेंट करने की जिम्मेवारी रेल लैंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (आरएलडीए) को दी गई है। दोनों स्टेशनों को पब्लिक प्राइवेट फंड(पीपीपी) के तहत अगामी 45 सालों में स्टेशन पर जुटने वाली यात्रियों की भीड़ के हिसाब से विकसित करने की योजना है।

कोरोना के कारण आर्थिक तंगी झेल रहे रेलवे को इसके लिए खुद की राशि खर्च नहीं करनी पड़ेगी। चुकी जो भी व्यक्ति अथवा ठेकेदार स्टेशन को विकसित करने में अपनी पूंजी व्यय करेगा, स्टेशन के री डैवलपमेंट के बाद शेष बची जमीन उक्त ठेकेदार को 60 सालों के लिए लीज पर दी जाएगी। जिस जमीन का वह अपने हिसाब से व्यावसायिक उपयोग कर सकेंगे। आरएलडीए के वरीय अभियंता प्रभात रंजन सिंह ने बताया कि रेलवे बोर्ड ने पूर्व मध्य रेलवे के समस्तीपुर रेल मंडल के दरभंगा व सीतामढ़ी व सोनपुर रेल मंडल के बरौनी स्टेशन को री डेवलपमेंट की स्वीकृति प्रदान कर दी है।

री-डेवलपमेंट के बाद शेष बची जमीन ठेकेदार को लीज पर दी जाएगी

आने-जाने वाले यात्रियों के लिए अलग-अलग होगी एंंट्री

स्टेशन को हवाई अड्डे का लुक दिया जाएगा। स्टेशन पर आने व ट्रेन से उतर कर बाहर जाने वाले यात्रियों के लिए अलग-अलग वे होगा। इससे स्टेशन पर चाहे जितनी भी भीड़ हो दोनों यात्री कभी भी आपस में नहीं टकराएंगे। इससे भगदड़ की स्थिति उत्पन्न नहीं होगी। अभी फुटओवर ब्रिज एक होने के कारण ट्रेन के समय अक्सर भीड़ में भगदड़ की स्थिति उत्पन्न हो जाती है।

120 फीट चौड़ा होेगा फुटओवर ब्रिज, यात्री वहां बैठ भी सकेंगे

स्टेशन पर 120 फीट चौड़ा फुटओवर ब्रिज बनेगा। जहां यात्री टिकट कटाने के बाद प्लेटफाॅर्म के करीब बैठ कर ट्रेन का इंतजार कर सकेंगे। ब्रिज से प्रत्येक प्लेटफार्म पर उतरने के लिए लिफ्ट, एस्कलेटर व सीढी रहेगी। यात्री किसी भी सुविधा का उपयोग कर सकेंगे। यात्री को वेटिेंग रूम में बैठने की जरूरत नहीं होगी। वह प्लेटफार्म के करीब रहेंगे तो ट्रेन पकड़ने में परेशानी नहीं होगी।

पूर्व-मध्य रेल के इन स्टेशनों को किया गया है शामिल
दरभंगा, सीतामढी, बरौनी, धनबाद, मुगलसराय के इससे पूर्व पहले चरण में राजेंद्रनगर टर्मिनल, सिंगरौली, गया, बेगूसराय व मुजफ्फरपुर को शामिल किया गया था। गया व मुजफ्फरपुर के री डैवलपमेंट का डिजाइन लगभग तैयार हो चुका है।
^रेलवे बोर्ड ने दूसरे चरण में पूर्व मध्य रेलवे के दरभंगा, सीतामढी, बरौनी, धनबाद व मुगलसराय स्टेशन को री डैवलपमेंट के लिए शामिल किया है। उक्त स्टेशनों को वर्ल्ड क्लास का स्टेशन बनाने के लिए कवायद शुरू कर दी गई है। आज संबंधित मंडल के इंजीनियरिंग विभाग के प्रमुख से चर्चा की गई है। संबंधित स्टेशन के बारे में पूरी रिपोर्ट मांग गई है। रिपोर्ट आने पर प्लानिंग की तैयारी होगी।
-प्रभात रंजन सिंह, वरीय अभियंता, आरएलडीए (दिल्ली)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here