मौसम विभाग ने आठ जुलाई के बाद यूपी में झमाझम बारिश का पूर्वानुमान जारी किया है. इस बीच प्रदेश में कहीं कहीं छिटपुट बारिश होती रहेगी.

झारखंड के सभी जिलों में सात जुलाई तक हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है. इस दौरान मेघ गर्जन और वज्रपात भी हो सकती है. सात जुलाई को राज्य के उत्तर-पूर्वी, दक्षिण पूर्वी और मध्य भागों में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है. इसे लेकर मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है.

बिहार में अगले चार दिन तक बारिश और वज्रपात के आसार बन गये हैं. इस मौसमी दशा में पूरा बिहार प्रभावित होगा. आइएमडी, पटना के मुताबिक बिहार दो ट्रफलाइन गुजर रही हैं. इस वजह से दो से तीन दिनों से बारिश में आयी कमी के बाद एक बार फिर बाढ़ की स्थिति बन सकती है. उत्तर और दक्षिण बिहार में मध्यम से भारी बारिश व मध्य बिहार में मध्यम बारिश के साथ जबरदस्त ठनका गिरने की आशंका है. इस संबंध में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. इस दौरान तेज हवा भी चलने के आसार हैं.

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सोमवार को अधिकतम तापमान 39.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग ने बताया कि अगले दो दिनों में उत्तर पूर्व, उत्तर और दक्षिण पश्चिम दिल्ली में गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान है. मंगलवार को आसमान में आंशिक रूप से बादल छाये रहने तथा अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 41 और 29 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है.

देश के उत्तरी इलाकों में सोमवार को भी भीषण गर्मी का प्रकोप जारी रहा. इस बीच, भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि दक्षिण-पश्चिम मॉनसून 10 जुलाई तक दिल्ली सहित उत्तर भारत के शेष हिस्सों में पहुंच सकता है. पिछले 15 वर्षों के दौरान ऐसा पहली बार हुआ है जब मानसून इतनी देर से पहुंच रहा हो.

हरियाणा में भीषण गर्मी का कहर जारी है. गुरुग्राम में अधिकतम तापमान 41.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जोकि सामान्य से चार डिग्री अधिक है. अगले दो-तीन दिनों में इस क्षेत्र में तापमान के और अधिक बढ़ने की आशंका है. गुरुग्राम हरियाणा का सबसे गर्म इलाका रहा. मौसम विभाग के मुताबिक हरियाणा के हिसार में अधिकतम तापमान 41.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि नारनौल और भिवानी में अधिकतम तापमान क्रमश: 41 डिग्री और 38.9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया.

पंजाब के बठिंडा में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जोकि सामान्य से तीन डिग्री अधिक है. राजधानी चंडीगढ़ में अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जोकि सामान्य से तीन डिग्री अधिक है. मौसम विभाग के मुताबिक अगले दो-तीन दिनों के दौरान पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में कोई खास बारिश होने की संभावना नहीं है, केवल हल्की बारिश या गरज के साथ बौछारें पड़ने का अनुमान है.

पंजाब और हरियाणा के कई इलाकों में आठ जुलाई से मानसून के जोर पकड़ने की उम्मीद है और आठ से 10 जुलाई के बीच कुछ इलाकों में मध्यम बारिश हो सकती है.

मौसम विभाग ने कहा कि दक्षिण-पश्चिम मानसून के पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शेष हिस्सों, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली के कुछ और हिस्सों में 10 जुलाई के आस-पास आगे बढ़ने की संभावना है ‘इससे 10 जुलाई से उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत में बारिश के लिए स्थितियां अनुकूल होने की संभावना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here