बिहार के मुजफ्फरपुर मे स्थित बिहार यूनिवर्सिटी अपने अजब गजब कारनामों के लिए चर्चा में रहता है ताजा मामला इन दिनों चल रही स्नातक पार्ट-2 की परीक्षा का है। विश्वविद्यालय में पार्ट-टू की परीक्षा में पार्ट- थ्री के सवाल पूछ दिए गए। इसपर पर छात्रों ने परीक्षा केंद्रों पर जमकर हंगामा किया। पार्ट टू की अकाउंट विषय की परीक्षा गुरुवार को थी। छात्रों का कहना था कि परीक्षा में मैनेजमेंट के सवाल पूछे गये जो पार्ट थ्री में हमलोगों को पढ़ना है। यह सवाल आउट ऑफ सिलेबस है। जैसे ही परीक्षा केंद्रों पर सवाल बंटे छात्रों ने हंगामा शुरू कर दिया।

मुजफ्फरपुर के एमपी सिन्हा साइंस कॉलेज में सवाल देखने के बाद छात्र भड़क गये और परीक्षा रद्द करने की मांग करने लगे। काफी देर तक छात्र कॉलेज में हंगामा करते रहे। एमपी सिन्हा साइंस कॉलेज के अलावा एलएस कॉलेज, आरडीएस कॉलेज, नीतश्वर कॉलेज, मोतिहारी के एमएस कॉलेज, श्रीकृष्ण महिला कॉलेज, बेतिया के एमजेके कॉलेज में छात्रों ने हंगामा किया।

बिहार छात्र संघ के एमपी सिन्हा साइंस कॉलेज के अध्यक्ष निहाल कुमार सिंह ने बताया कि परीक्षा में गलत सवाल आने के कारण छात्र आक्रोशित हो गये। इसके बाद छात्र कॉलेज के परीक्षा नियंत्रक से मिले और उनसे बात कर छात्रों को शांत कराया गया। इस मौके पर गौतम सिंह, छात्र नेता आदिल अशफाक, सुधांशु कुमार,योगेश कुमार आदि थे।

बेतिया के एमजेके कॉलेज में भी गलत सवाल आने पर छात्रों ने हंगामा किया। केंद्राधीक्षक प्रो शफी अहमद ने बताया कि कुछ छात्रों की शिकायत थी कि सिलेबस से बाहर के सवाल पूछे गए हैं। इसके बाद विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक से भी बात हुई। उनके आश्वासन के बाद छात्र फिर से परीक्षा देने बैठे। अभाविप के राष्ट्रीय कार्यकारिणी परिषद के सदस्य रौशन कुमार ने कहा कि आज कॉमर्स के छात्रों को पार्ट 2 के परीक्षा में सारे प्रश्नपत्र पार्ट 3 के दिए गए।

गलत सवाल आने के बाद विवि ने बनाई जांच कमेटी

पार्ट टू की परीक्षा में गलत सवाल आने के बाद बिहार विवि ने एक कमेटी बनाई है। परीक्षा नियंत्रक डॉ संजय कुमार ने बताया कि परीक्षा में गलत सवाल कैसे आ गये, कमेटी इसकी जांच करेगी और रिपोर्ट देगी। कमेटी जो भी रिपोर्ट देगी उस पर कार्रवाई होगी। कमेटी का प्रस्ताव कुलपति को भेज दिया गया है।

छात्र नेताओं ने जताया विरोध बिहार विवि के छात्र नेताओं ने भी विरोध जताया है। छात्र राजद के चंदन यादव ने कहा कि पार्ट टू की परीक्षा में गलत सवाल आने से छात्र परेशान हैं। परीक्षा विभाग को इस पर जल्द कार्रवाई करनी चाहिए। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की प्रदेश सह छात्रा प्रमुख रोमिता श्रीवास्तव ने भी छात्र हित में कदम उठाने की मांग की। छात्र लोजपा के गोल्डेन सिंह ने कहा कि यह काम छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है।

विश्वविद्यालय पहुंचकर परीक्षा नियंत्रक से मिले

परीक्षा में गलत सवाल आने पर आक्रोशित छात्र बिहार विवि भी पहुंचे और परीक्षा नियंत्रक से मिले। छात्रों का कहना था कि गलत सवाल पूछकर उनका भविष्य खराब किया गया है। छात्र परीक्षा को रद्द कर दूसरी परीक्षा कराने की मांग पर अड़े थे। काफी देर तक छात्र परीक्षा नियंत्रक के कार्यालय में जमे रहे। परीक्षा नियंत्रक के आश्वासन पर छात्र माने और वहां से लौटे। परीक्षा में गलत सवाल आने पर पूरे दिन बिहार विवि और सभी परीक्षा केंद्रों पर अफरातफरी मची रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here