बिहार में 18 जून को बंद से पहले राज्य सरकार ने 12 जिलों में इंटरनेट पर लगाम लगाते हुए फेसबुक, ट्वीटर, व्हाट्सएप समेत 22 साइट और एप्स पर अगले तीन दिन तक किसी तरह का मैसेज आना-जाना बैन कर दिया है। इस दौरान यू-ट्यूब पर वीडियो अपलोड को भी रोक दिया गया है। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद ने इंटरनेट के जरिए मैसेज के लेन-देन को रोकने का यह आदेश जारी किया है।

जिन जिलों में यह रोक प्रभावी रहेगी उनमें कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पश्चिम चंपारण, समस्तीपुर, लखीसराय, बेगूसराय, वैशाली और सारण जिला शामिल है।

इन App को किया गया है बैन
– Facebook
– Twitter
– Whatsapp
– QQ
– Wechat
– Qzone
– Tublr
– Google+
– Baidu
– Skype
– Viber
– Line
– Snapchat
– Pinterest
– Telegram
– Reddit
– Snaptish
– Youtube (upload)
– Vinc
– Xanga
– Buaanet
– Flickr

बता दें कि सेना बहाली में अग्निपथ योजना के विरोध में शुक्रवार को भी कोसी, सीमांचल और पूर्वी बिहार के जिलों में सेना अभ्यर्थियों ने जमकर उपद्रव किया। लखीसराय में युवाओं ने डाउन विक्रमशिला ट्रेन में आग लगा दी तो जनसेवा एक्सप्रेस में तोड़फोड़ की। युवाओं ने भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय में भी तोड़फोड़ की। जनसेवा एक्सप्रेस में हंगामा के दौरान अकबरनगर के एक बुजुर्ग यात्री ट्रेन से गिर गए जिनको बाद में अस्पताल पहुंचाया गया। वहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गयी।। लखीसराय में युवाओं की भीड़ ने स्टेशन पर कई स्टॉल में तोड़फोड़ की और सामान को बाहर फेंक दिया। मोबाइल से हंगामा का वीडिया बना रहे और फोटो खींच रहे डेढ़ दर्जन लोगों के मोबाइल को छीनकर तोड़ दिया। वहीं भागलपुर के खरीक में युवाओं ने एनएच 31 जाम कर प्रदर्शन किया। इस दौरान युवाओं को समझाने पहुंची पुलिस ने स्थिति को काबू करने के लिए हवाई फायरिंग की। इसके विरोध में किए गए पथराव में कुछ पुलिस अधिकारी और जवान जख्मी हो गए।

मधेपुरा में आक्रोशित युवाओं ने स्टेशन पर तोड़फोड़ की। इससे रेलवे को करीब पांच लाख रुपए की आर्थिक क्षति होने का अनुमान है। गुस्साए लोगों ने भाजपा कार्यालय में भी तोड़फोड़ की। सुपौल में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन पर पत्थर बरसाए और 05516 डाउन पैसेंजर ट्रेन में आग लगा दी। खगड़िया में सेना अभ्यर्थियों ने एनएच 31 पर पांच घंटे आवागमन ठप कर दिया। वहीं पूर्णिया कोर्ट से कटिहार जाने वाली 18625 अप कोशी एक्सप्रेस ट्रेन को सुबह 6:15 बजे से ही रोक दिया। पूर्णिया में युवाओं ने शहर के गिरजा चौक, आरएन साह चौक, पॉलिटेक्निक चौक पर धरना दिया। बांका में बेलहर एवं फुल्लीडुमर में युवाओं ने सड़क जाम कर विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों के हमले को लेकर कटिहार में डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद के आवास पर पुलिस की तैनाती कर दी गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here