सीतामढ़ी;-नानपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में हथियारों से लैस बदमाश एक नाबालिग बच्ची को उसकी मां के सामने अगवा कर ले गए। यह मामला प्रकाश में आते ही सनसनी फैल गई। घटना 18 अक्टूबर की है। सुबह पांच बजे उस दिन बच्ची अपनी मां के साथ पूजा करने के लिए फूल लोढ़ने के निकली थी। घटना के संबंध में अपहृत लड़की की मां के आवेदन पर नानपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। जिसमें बुधनगरा गांव के मिंटू कुमार एवं गोलू महाराज के अलावा मोहन साह, सोहन साह, दशरथ साह समेत दस लोगों को नामजद किया गया है। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार, लड़की की मां ने कहा कि वह अपनी नाबालिग पुत्री के साथ रोजाना की तरह उस दिन सुबह गांव में ही फूल तोड़ने के लिए निकली थी।

अचानक लाल रंग की अपाचे बाइक उन दोनों के सामने रूकी। इसी क्रम में मिंटू कुमार एवं गोलू बाइक से उतरा एवं जबरन उनकी पुत्री को उसपर बिठा लिया। विरोध करने पर मिंटू ने अपनी कमर से पिस्टल निकाली और जान मारने की धमकी देते हुए ले भागा। वह घर पहुंचकर घटना की जानकारी स्वजनों को दी। सभी मिलकर मिंटू के घर पहुंचे, मगर वह नहीं मिला। उसके परिवार के मोहन साह, सोहन साह एवं दशरथ साह समेत अन्य सदस्यों ने दो घंटे की मोहलत देने पर बरामद करने की बात कही। लेकिन, अपहृत लड़की का अब तक पता नहीं चल पाया है। अब उसके परिवार के लोग गाली-गलौच करते हुए मारपीट पर उतारू हैं। घर से धक्का देकर भगा दे रहे हैं। अपहृत लड़की की मां ने दावा किया है कि उसकी पुत्री को नामजद आरोपियों ने एक साजिश के तहत शादी की नीयत से या फिर गलत कार्य के लिए उसे बेचने की नीयत से अपहरण किया है। पुल‍िस इस मामले को गंभीरता पूर्वक लेते हुए अब जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here