समस्तीपुर:-थाना क्षेत्र के दोडीहा गांव रविवार को दिल्ली के नरेला से एक मजदूर का शव पहुंचते ही परिजनों के बीच कोहराम मच गया। परिजनों ने बताया की दिल्ली के नरेला के एक दाल फैक्ट्री में दोडीहा गांव के राजकिशोर यादव के 46 वर्षीय पुत्र छब्बो यादव मजदूरी कर परिवार भरण पोषण करता था। 20 अगस्त को काम करने के दौरान फैक्ट्री में बिजली की तार गिरने के कारण करंट लगने से मजदूर छब्बो की हो गई। इसके बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए गांव लाया। शव पहुंचने की खबर मिलते ही शव को देखने आसपास इलाके की लोगों का भीड़ इकठ्ठा हो गया। बताया गया छब्बो यादव अपने पीछे चार पुत्री समेत एक पुत्र छोड़ गए। पिता की मौत के बाद पत्नी समेत बच्चों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। वही गांव में शव आने के बाद मातमी सन्नाटा पसरा है।

ये भी पढ़े:-गोलगप्पे वाले ने पानी में मिलाया यूरिन, वीडियो देखकर कहेंगे ‘छी’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here