बिहार का तीसरा सबसे बड़ा पशु आहार फैक्ट्री खगड़िया जिले के महेशखूंट में नेशनल हाईवे चौराहा के पास जल्द ही चालू होगा। उम्मीद जताई जा रही है कि अगस्त माह तक पशु आहार फैक्ट्री चालू हो जाएगा। फैक्ट्री के निर्माण में तकरीबन 50 करोड़ रुपए की राशि खर्च होने की उम्मीद है। फैक्ट्री के बन जाने से स्थानीय लोगों के लिए रोजगार का अवसर भी उपलब्ध होगा। बता दे कि कोनफोर्ट, पटना के द्वारा पशु आहार फैक्ट्री का निर्माण किया जा रहा है, किंतु इसका मालिकाना हक बरौनी डेयरी के पास है।

मक्का उगाने वाले किसानों को महेशखूंट नेशनल हाईवे-31 के पास बन रहे पशु आहार फैक्ट्री से लाभ मिलेगा। जानकारी के मुताबिक बिहार की केवल 2 जिले मुजफ्फरपुर और पटना में पशु आहार फैक्ट्री है। राज्य का तीसरा सबसे बड़ा पशु आहार फैक्ट्री इन खगड़िया में निर्माण किया जा रहा है।

बिहार के इस पशु आहार फैक्ट्री में स्वचालित मशीन लगाया जा रहा है। इसे रोजाना पशु आहार 300 मेट्रिक टन उत्पादन होगा। वर्तमान में सीमांचल और कोशी इलाके के पशुपालकों को पटना और मुजफ्फरपुर की सुधारणा फैक्ट्री से उपलब्ध कराया जाता है। खगरिया के महेशखूंट में फैक्ट्री शुरू होने से उत्पादित दाना खगड़िया के साथ ही सहरसा, मधेपुरा, सुपौल, भागलपुर, बेगूसराय, पटना के बाढ़ इलाके और समस्तीपुर जिले तक भेजे जाएगा। पशु आहार यहां के किसानों को सस्ते कीमत पर उपलब्ध होगा। हैप्पी शुरू होने से प्रत्येक दिन पशु आहार पालन हेतु कुल 45 मीटिंग तन्मय की जरूरत पड़ेगी।

बता दें कि सीएम नीतीश कुमार ने 28 जनवरी 2019 को पटना से ही रिमोट के माध्यम से महेशखूंट चौराहा के बगल में बरौनी सुधा डेयरी के द्वारा प्रस्तावित जमीन पर पशु आहार फैक्ट्री की नींव रखी थी। फैक्ट्री शुरू होने से 500 से ज्यादा लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। मक्का का वाजिब कीमत किसानों को मिल सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here