सीटेट पास महिला अभ्यर्थियों ने सांतवें चरण के नियोजन की मांग लेकर ट्वीटर पर अनोखा अभियान चलाया। महिला अभ्यर्थियों ने मेंहदी से हाथों पर नियोजन की मांग सजाई और शिक्षा मंत्री से लेकर प्रदेश के तमाम अधिकारियों तक अपनी मांग पहुंचाई। रविवार को ट्वीटर पर यह अनोखा मेंहदी अभियान छाया रहा। 

बिहार में छठे चरण के शिक्षक नियोजन प्रक्रिया को लेकर काउंसिलिंग जारी है। ऐसे में सीटीईटी, एसटीईटी-2019 पास अभ्यर्थियों ने सरकार से सातवें चरण के लिए मांग की है। मुजफ्फरपुर के अभ्यर्थियों ने रविवार को यह अभियान शुरू किया। इसके साथ ही मधेपुरा, भागलपुर, सहरसा, मुंगेर, कटिहार समेत लगभग सभी जिलों से अभ्यर्थियों ने शिक्षा विभाग से मांग करते हुए कहा कि सातवें चरण के नियोजन के लिए विज्ञापन शीघ्र अतिशीघ्र निकाला जाए, ताकि हम उसे भर सकें।

लंबे समय बाद जहां बिहार में छठे चरण की नियोजन प्रक्रिया में शिक्षा विभाग द्वारा कोर्ट पहुंचे मामले को सुलझाने के बाद काउंसिलिंग का एक कदम बढ़ाया गया है वहीं, इस नियोजन प्रक्रिया से वंचित रह गए अभ्यर्थियों ने इंटरनेट मीडिया के माध्यम से अपनी मांगें सरकार के समक्ष रखी हैं। वे लगातार शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी, मुख्य सचिव संजय कुमार और प्राथमिक शिक्षा निदेशक डॉ. रणजीत कुमार सिंह को मेंशन करते हुए ट्वीट कर रहे हैं। इसमें महिलाओं का हाथों पर नियोजन संबंधित लगाई मेंहदी छाई रही। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here