पटना. झमाझम बारिश के बीच सोमवार को बिहार राज्य पर्यटन विकास निगम की ओर से पटना के गांधी घाट पर गंगा आरती शुरु हो गई. 17 माह बाद सोमवार को यह आरती शुरू हुई है. कोरोना महामारी के कारण गंगा आरती को पर्यटन नि‍गम ने पर्यटकों की सुरक्षा की लिहाज से बंद कर दि‍या गया था.

आज की गंगा आरती की खास तैयारी की गयी थी. मौके पर पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन व भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सह केंद्रीय जल संसाधन संसदीय समिति के अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल सहित बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए. हालांकि लंबे इंतजार के बाद भी सूबे के पर्यटन मंत्री नारायण प्रसाद नहीं पहुंचे. बिहार राज्य पर्यटन विकास निगम के एमडी भी नदारद रहे. गंगा आरती से पहले डॉक्टर संजय जायसवाल सहित टीम के 14 सदस्यों का अंग वस्त्र ओढ़ाकर और जलपात्र देकर स्वागत किया.

Bihar Panchayat Election: नामांकन के वक्त इन कागजात को साथ रखें उम्मीदवार, नहीं तो रद्द हो जाएगा नॉमिनेशन

लगभग एक घंटे तक चली गंगा आरती के भक्तिमय माहौल में लोग खो गये. अारती की शुरुआत ॐ जय गंगे माता, मैया जय गंगे माता. जो नर तुमको ध्याता, मनवांछित फल पाता॥ ॐ जय गंगे माता॥ से होते ही गांधी घाट पर भक्ति को माहौल देखते ही बन रहा था. गंगा आरती का संचालन पर्यटन निगम के नोडल अधिकारी सुमन कुमार की टीम ने किया. स्थानीय पुजारियों की टीम ने आरती दिखायी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here